1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. शरद पवार ने बताया, किसकी सिफारिश पर धोनी को बनाया गया था भारतीय टीम का कप्तान

शरद पवार ने बताया, किसकी सिफारिश पर धोनी को बनाया गया था भारतीय टीम का कप्तान

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। भारत के महान क्रिकेटर और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आईसीसी के सभी ट्राफी जीतने वाले विश्व के एक मात्र कप्तान हैं। उन्होंने भारत के लिए 2007 में टी—20 विश्व कप, 2011 में वन डे ​विश्व कप और 2013 में चैंपियनशिप ट्राफी जीतकर ये रिकार्ड अपने नाम किया ​​था। धोनी को 2007 के वन डे विश्व कप में भारत के खराब प्रदर्शन के बाद टीम की कमान सौंप दी गई थी। उस समय भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के फैसले से हर कोई हैरान था।

पढ़ें :- India and New Zealand T20 match: भारत और न्यूजीलैंड के बीच आज निर्णायक मुकाबला, ऐसी हो सकती है टीम इंडिया

एनसीपी प्रमुख और बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष शरद पवार ने खुलासा किया है कि धोनी को कप्तानी किसके सिफारिश पर दी गई थी। उन्होंने रविवार को एक सार्वजनिक कार्यक्रम में बताया कि साल 2007 में सचिन तेंदुलकर ने ही एम एस धोनी को कप्तान बनाने की सिफारिश की थी। पवार ने बताया कि कैसे साल 2007 में राहुल द्रविड़ कप्तानी छोड़ना चाहते थे और राष्ट्रीय टीम के लिए नेतृत्व के लिए कप्तान की खोज करनी थी। पवार ने साल 2005 से 2008 तक बीसीसीआई के अध्यक्ष का पद संभाला था। उन्होंने कहा कि मुझे याद है कि भारत 2007 में इंग्लैंड गया था। उस समय द्रविड़ कप्तान थे। मैं तब वहां इंग्लैंड में था और द्रविड़ मुझसे मिलने आए थे।

उन्होंने बताया कि वो भारत का नेतृत्व नहीं करना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि कैसे उनकी बल्लेबाजी इस वजह से प्रभावित हो रही है। उन्होंने कहा कि मुझे कप्तानी से राहत मिलनी चाहिए। मैने इसके सचिन से कप्तानी संभालने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने इस भूमिका को ठुकरा दिया। पवार ने आगे बताया,” मैंने सचिन से कहा कि अगर तुम और द्रविड़ दोनों टीम का नेतृत्व नहीं करना चाहते हैं, तो हम कैसे आगे बढेंगे। तब सचिन ने मुझसे कहा कि हमारे पास देश में एक और खिलाड़ी है जो टीम का नेतृत्व कर सकता है और उसका नाम कोई और नहीं बल्कि एमएस धोनी है। इसके बाद हमने धोनी को टीम की कप्तानी सौंपी दी।

 

पढ़ें :- Rishabh Pant Health Update: ऋषभ पंत के स्वास्थ्य को लेकर आया बड़ा अपडेट, जानिए अस्पताल से कब होंगे डिस्चार्ज?
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...