1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Shardiya Navratri 2022 : नोट कर लें नवरात्रि पूजन की ये जरूरी सामग्री की लिस्ट

Shardiya Navratri 2022 : नोट कर लें नवरात्रि पूजन की ये जरूरी सामग्री की लिस्ट

Shardiya Navratri 2022 : शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri) पर्व की सोमवार 26 सितंबर को  शुरुआत होगी। नवरात्रि के नौ दिनों तक देवी शक्ति के नौ अलग-अलग रूपों की आराधना की जाती है। शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri)  अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक मनाई जाती है। शरद ऋतु में आगमन के कारण ही इसे शारदीय नवरात्रि कहा जाता है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Shardiya Navratri 2022 : शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri) पर्व की सोमवार 26 सितंबर को  शुरुआत होगी। नवरात्रि के नौ दिनों तक देवी शक्ति के नौ अलग-अलग रूपों की आराधना की जाती है। शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri)  अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक मनाई जाती है। शरद ऋतु में आगमन के कारण ही इसे शारदीय नवरात्रि कहा जाता है। देशभर में यह त्योहार अलग-अलग ढंग से मनाते हैं, लेकिन एक चीज़ जो हर जगह सामान्य होती है वो है मां दुर्गा की पूजा। हर व्यक्ति नवरात्रि के समय में माता को प्रसन्न करने के लिए पूरी श्रद्धा से पूजा करता है और अपने सभी दुखों को दूर करने की प्रार्थना करता है। अब जानते हैं नवरात्रि की सामग्री के बारे में।

पढ़ें :- Shardiya Navratri 2022 : मां चंद्रघंटा की उपासना का दिन, जानें पूजा विधि, मंत्र और प्रसाद

नवरात्रि की आवश्यक सामग्री

नवरात्रि के पहले दिन कलश स्थापना की जाती है। माना जाता है कि इस कलश में 33 कोटि देवी-देवता भी होते हैं।  कलश स्थापना के लिए थोड़ी सी मिट्टी, मिट्टी का घड़ा, मिट्टी का ढक्कन, कलावा, नारियल, गंगाजल, लाल रंग का कपड़ा, एक मिट्टी का दीपक, अक्षत, हल्दी-तिलक, पान के पत्ते, जौ, फूल-माला, भोग के लिए फल और मिठाई, रंगोली के लिए आटा, मिट्टी की कटोरी के ऊपर रखने के लिए चावल या गेहूं। मां दुर्गा की प्रतिमा या तस्वीर, चौकी, चौकी पर बिछाने के लिए लाल या पीला कपड़ा, लाला चुनरी, पाठ के लिए दुर्गासप्तशती पुस्तक, दुर्गा चालीसा।

माता रानी श्रृंगार सामग्री

नवरात्रि के मौके पर नवदुर्गा का श्रृंगार किया जाता है। पूजा के लिए मां दुर्गा की तस्वीर या प्रतिमा ली जा सकती है। इसके साथ कुमकुम या बिंदी, सिंदूर, काजल, मेहंदी, गजरा, लाल रंग का जोड़ा, मांग टीका, नथ, कान के झुमके, मंगल सूत्र, बाजूबंद, चूड़ियां, कमरबंद, बिछुआ, पायल आदि।

पढ़ें :- Shardiya Navratri 2022 : नवरात्र पर्व के दूसरे दिन माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा-अर्चना कर सर्वसिद्धि प्राप्त करें

नवरात्रि तिथि (Shardiya Navratri 2022 Date)

प्रतिपदा (मां शैलपुत्री): 26 सितम्बर

द्वितीया (मां ब्रह्मचारिणी): 27 सितम्बर

तृतीया (मां चंद्रघंटा): 28 सितम्बर

चतुर्थी (मां कुष्मांडा): 29 सितम्बर

पढ़ें :- Shardiya Navratri 2022  : देवी के इन नौ रूपों को समर्पित हैं शारदीय नवरात्र, जानें महत्व और उनकी महिमा

पंचमी (मां स्कंदमाता): 30 सितम्बर

षष्ठी (मां कात्यायनी): 01 अक्टूबर

सप्तमी (मां कालरात्रि): 02 अक्टूबर

अष्टमी (मां महागौरी): 03 अक्टूबर

नवमी (मां सिद्धिदात्री): 04 अक्टूबर

दशमी (मां दुर्गा प्रतिमा विसर्जन): 5 अक्टूबर

पढ़ें :- Shardiya Navratri 2022 : नवरात्रि व्रत के हैं कई फायदे, बस इन बातों का जरूर रखें ख्याल

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...