पनामा पेपर लीक : नवाज शरीफ ने फैसले की समीक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट में दायर की याचिका

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को तीन अलग-अलग याचिकाएं दाखिल की हैं. नवाज शरीफ ने अपील की है कि पनामागेट मामले में कोर्ट फैसले की समीक्षा करे. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद नवाज शरीफ पाकिस्तान के पीएम पद से अयोग्य करार दिए गए थे. सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यों की पीठ ने पिछले महीने शरीफ को पनामागेट मामले में अयोग्य करार दिया था. साथ ही कोर्ट ने यह व्यवस्था दी थी कि उनके और उनके बच्चों के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले दायर किए जाएं.

शरीफ के वकील ख्वाजा हैरिस ने इमरान खान, शेख राशिद और सिरजुल हक की याचिकाओं के जवाब में शीर्ष अदालत की लाहौर रजिस्ट्री में तीन समीक्षा याचिकाएं दाखिल की हैं. अपने अपील के जरिए नवाज ने कहा है कि 28 जुलाई का फैसला तीन जजों की बेंच को देना चाहिए था.

{ यह भी पढ़ें:- जानिए कौन हैं संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान को टेररिस्तान कहने वाली इनम गंभीर }

नवाज शरीफ ने याचिका में कहा गया है, 28 जुलाई को कोर्ट के अंतरिम आदेश पर दस्तखत कर जस्टिस गुलजार अहमद और जस्टिस आसिफ सईद खोसा ने एक ही केस में दो फैसले पास किए. यह न्यायिक इतिहास में अनोखा है.

{ यह भी पढ़ें:- संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तानी पीएम के आरोपों पर भारत का पलटवार }