‘कुंभकरण’ हो गई है BJP, जागकर बनवाए राम मंदिर: उद्धव ठाकरे

uddav

अयोध्या। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राममंदिर मुद्दे को लेकर भाजपा पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए शनिवार को बीजेपी को ‘कुंभकरण’ बताते हुए कहा कि उसे (बीजेपी को) उठकर अयोध्या में राम मंदिर बनाने की जरूरत है।

Shiv Sena Ayodhya Ram Temple Issue Narendra Modi Government Big Attack Kumbhakarna Ayodhya Ram External :

शिवसेना ने कहा कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ‘कुंभकर्ण’ को उसकी ‘गहरी नींद’ से जगाने के लिए अयोध्या में हैं, ताकि मंदिर निर्माण की शुरुआत की जा सके। ठाकरे दो दिन के दौरे पर शनिवार को अपने परिवार के साथ उत्तर प्रदेश के मंदिर नगरी अयोध्या पहुंचे।

शिवसेना ने ‘सामना’ में एक संपादकीय में दावा किया कि अब हिंदुओं का यही मत है कि ‘पहले मंदिर फिर सरकार।’ संपादकीय में लिखा है, ‘मंदिर निर्माण का वादा प्रत्येक चुनाव में किया जाता है, उसके बारे में बातें करने वालों के केंद्र और उत्तर प्रदेश में सत्ता में रहने के बावजूद उसका निर्माण नहीं हुआ है।

उद्धव ने कहा कि जो लोग अयोध्या से शिवसेना के कनेक्शन के बारे में पूछ रहे हैं वो इतिहास को भूल चुके हैं। जब शिवसैनिकों ने बाबरी मस्जिद के गुंबद को ढहाया था और तब शिवसेना प्रमुख ने गर्व से कहा था कि ऐसा करने वाले शिवसैनिक हैं।

2019 से पहले राम मंदिर निर्माण का शुभारंभ करो-

उन्होंने कहा कि बाबरी गिरने के बाद भी राम मंदिर का निर्माण नहीं हुआ, यह राम और हिंदुत्व का अपमान है। उन्होंने कहा कि न्यायालय का बहाना दिखावा है, राम मंदिर का निर्माण अदालत नहीं बल्कि आज की सरकार करेगी, क्योंकि राम के नाम पर तुमने वोट मांगे थे इसलिए 2019 से पहले एक अध्यादेश निकालकर सीधे राम मंदिर निर्माण का शुभारंभ करो।

अयोध्या। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राममंदिर मुद्दे को लेकर भाजपा पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए शनिवार को बीजेपी को 'कुंभकरण' बताते हुए कहा कि उसे (बीजेपी को) उठकर अयोध्या में राम मंदिर बनाने की जरूरत है।शिवसेना ने कहा कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ‘कुंभकर्ण' को उसकी ‘गहरी नींद' से जगाने के लिए अयोध्या में हैं, ताकि मंदिर निर्माण की शुरुआत की जा सके। ठाकरे दो दिन के दौरे पर शनिवार को अपने परिवार के साथ उत्तर प्रदेश के मंदिर नगरी अयोध्या पहुंचे।शिवसेना ने ‘सामना' में एक संपादकीय में दावा किया कि अब हिंदुओं का यही मत है कि ‘पहले मंदिर फिर सरकार।' संपादकीय में लिखा है, ‘मंदिर निर्माण का वादा प्रत्येक चुनाव में किया जाता है, उसके बारे में बातें करने वालों के केंद्र और उत्तर प्रदेश में सत्ता में रहने के बावजूद उसका निर्माण नहीं हुआ है।उद्धव ने कहा कि जो लोग अयोध्या से शिवसेना के कनेक्शन के बारे में पूछ रहे हैं वो इतिहास को भूल चुके हैं। जब शिवसैनिकों ने बाबरी मस्जिद के गुंबद को ढहाया था और तब शिवसेना प्रमुख ने गर्व से कहा था कि ऐसा करने वाले शिवसैनिक हैं।

2019 से पहले राम मंदिर निर्माण का शुभारंभ करो-

उन्होंने कहा कि बाबरी गिरने के बाद भी राम मंदिर का निर्माण नहीं हुआ, यह राम और हिंदुत्व का अपमान है। उन्होंने कहा कि न्यायालय का बहाना दिखावा है, राम मंदिर का निर्माण अदालत नहीं बल्कि आज की सरकार करेगी, क्योंकि राम के नाम पर तुमने वोट मांगे थे इसलिए 2019 से पहले एक अध्यादेश निकालकर सीधे राम मंदिर निर्माण का शुभारंभ करो।