महाराष्ट्र : फूट के डर से शिवसेना ने विधायकों को होटल में भेजा, राजभवन पहुंची बीजेपी

bjp and shivsena
महाराष्ट्र : फूट के डर से शिवसेना ने विधायकों को होटल में भेजा, राजभवन पहुंची बीजेपी

मुंबई। महाराष्ट्र सरकार बनाने को लेकर चल रही खींचतानी जारी है। शिवसेना 50—50 के फॉर्मूले पर अड़ी हुई है, जबकि बीजेपी शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा कर रही है। ऐसे में 13 दिन बाद भी नई सरकार का रास्ता साफ नहीं हो सका है। वहीं, राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से महाराष्ट्र भाजपा के प्रतिनिधिमंडन ने मुलाकात की।

Shiv Sena Sent Mlas To Hotel Bjp Reached Raj Bhavan :

मुलाकात के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि जनता ने भाजपा-शिवसेना ‘महायुति’ को बहुमत दिया है। सरकार बनाने में देरी हो रही है, अब तक सरकार बन जानी चाहिए थी। हम राज्य में कानूनी विकल्पों और राजनीतिक स्थिति पर चर्चा करने के लिए राज्यपाल से मिले।

हम आलाकमान से चर्चा कर आगे की रणनीति तय करेंगे। उधर, शिवसेना के विधायकों की हो रही बैठक खत्म हो गयी है। सूत्रों की माने तो उद्धव ठाकरे पर इसका फैसला छोड़ दिया गया है। बैठक के बाद शिवसेना विधायक गुलाबराव पाटिल ने कहा कि हम अगले दो दिनों के लिए होटल में रुकेंगे।

हम वही करेंगे जो उद्धव ठाकरे करने के लिए कहेंगे। शिवसेना अपने विधायकों को रंगशारदा होटल लेकर जा रही है। उसे आशंका है कि विधायकों को तोड़ा जा सकता है।

मुंबई। महाराष्ट्र सरकार बनाने को लेकर चल रही खींचतानी जारी है। शिवसेना 50—50 के फॉर्मूले पर अड़ी हुई है, जबकि बीजेपी शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा कर रही है। ऐसे में 13 दिन बाद भी नई सरकार का रास्ता साफ नहीं हो सका है। वहीं, राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से महाराष्ट्र भाजपा के प्रतिनिधिमंडन ने मुलाकात की। मुलाकात के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि जनता ने भाजपा-शिवसेना 'महायुति' को बहुमत दिया है। सरकार बनाने में देरी हो रही है, अब तक सरकार बन जानी चाहिए थी। हम राज्य में कानूनी विकल्पों और राजनीतिक स्थिति पर चर्चा करने के लिए राज्यपाल से मिले। हम आलाकमान से चर्चा कर आगे की रणनीति तय करेंगे। उधर, शिवसेना के विधायकों की हो रही बैठक खत्म हो गयी है। सूत्रों की माने तो उद्धव ठाकरे पर इसका फैसला छोड़ दिया गया है। बैठक के बाद शिवसेना विधायक गुलाबराव पाटिल ने कहा कि हम अगले दो दिनों के लिए होटल में रुकेंगे। हम वही करेंगे जो उद्धव ठाकरे करने के लिए कहेंगे। शिवसेना अपने विधायकों को रंगशारदा होटल लेकर जा रही है। उसे आशंका है कि विधायकों को तोड़ा जा सकता है।