शिवसेना की किशोरी पेडनेकर बनीं मुंबई की नई मेयर, बधाई देने BMC पहुंचे उद्धव

mumbai meyar
शिवसेना की किशोरी पेडनेकर बनीं मुंबई की नई मेयर, बधाई देने BMC पहुंचे उद्धव

नई दिल्ली। देश का सबसे अमीर नगर निगम कहे जाने वाले मुंबई के मेयर पद पर शिवसेना का फिर से कब्जा हो गया है। शिवसेना उम्मीदवार किशोरी पेडनेकर को मुंबई महानगर पालिका का निर्विरोध मेयर चुना गया। डिप्टी मेयर पद पर भी शिवसेना के सुहास वाडकर निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं।  

Shiv Senas Teenager Pednekar Becomes Mumbais New Mayor Uddhav Arrives At Bmc To Congratulate :

आंकड़ों के गणित के हिसाब से बीजेपी अगर चाहती तो शिवसेना के मेयर बनने के रास्ते में अड़चन डाल सकती थी, लेकिन बीजेपी ने अपना उम्मीदवार खड़ा न करने का फैसला किया है। वहीं एनसीपी और कांग्रेस ने भी अपना उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है। इसके बाद से शिवसेना की उम्मीदवार किशोरी पेडणेकर का मेयर बनना तय माना जा रहा है।

दरअसल प्रदेश में बीजेपी और शिवसेना के बीच खराब रिश्ते के कारण उम्मीद की जा रही थी कि बीजेपी मेयर पद के चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार उतार सकती है, लेकिन मुख्य़मंत्री बनाने को लेकर चल रहे विवाद के बाद बीजेपी ने अपना कोई उम्मीदवार मैदान में नहीं उतार रही है। 227 सीटों वाली मुंबई महानगर पालिका में शिवसेना के पास 93 पार्षद हैं जबकि बीजेपी के पास 83, कांग्रेस के पास 29 पार्षद हैं।  

नई दिल्ली। देश का सबसे अमीर नगर निगम कहे जाने वाले मुंबई के मेयर पद पर शिवसेना का फिर से कब्जा हो गया है। शिवसेना उम्मीदवार किशोरी पेडनेकर को मुंबई महानगर पालिका का निर्विरोध मेयर चुना गया। डिप्टी मेयर पद पर भी शिवसेना के सुहास वाडकर निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं।   आंकड़ों के गणित के हिसाब से बीजेपी अगर चाहती तो शिवसेना के मेयर बनने के रास्ते में अड़चन डाल सकती थी, लेकिन बीजेपी ने अपना उम्मीदवार खड़ा न करने का फैसला किया है। वहीं एनसीपी और कांग्रेस ने भी अपना उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है। इसके बाद से शिवसेना की उम्मीदवार किशोरी पेडणेकर का मेयर बनना तय माना जा रहा है। दरअसल प्रदेश में बीजेपी और शिवसेना के बीच खराब रिश्ते के कारण उम्मीद की जा रही थी कि बीजेपी मेयर पद के चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार उतार सकती है, लेकिन मुख्य़मंत्री बनाने को लेकर चल रहे विवाद के बाद बीजेपी ने अपना कोई उम्मीदवार मैदान में नहीं उतार रही है। 227 सीटों वाली मुंबई महानगर पालिका में शिवसेना के पास 93 पार्षद हैं जबकि बीजेपी के पास 83, कांग्रेस के पास 29 पार्षद हैं।