शिवपाल यादव के समाजवादी सेक्युलर मोर्चा में नहीं मिलेगी एहसान फरामोशों को एंट्री

शिवपाल यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के नेता शिवपाल यादव ने अपनी नई पार्टी बनाने की घोषणा बुधवार को कर दी है। शिवपाल यादव ने स्पष्ट कर दिया है कि 6 जुलाई को उनकी नई पार्टी समाजवादी सेक्युलर मोर्चा एक बड़े सम्मेलन के साथ अस्तित्व में आएगा। नई पार्टी की कमान मुलायम सिंह यादव के हाथों में होगी और तमाम पुराने समाजवादी नेता उनके साथ होंगे। इसके साथ ही शिवपाल यादव ने उन कुछ लोगों को एहसान फरामोश करार देते हुए मोर्चे में एंट्री नहीं देने की बात भी कही है। अब शिवपाल की गिनती में कौन लोग हैं उन्होंने किसी का नाम स्पष्ट नहीं किया है।




अपनी नई पार्टी की घोषणा के बीच भतीजे अखिलेश यादव पर बयान देते हुए शिवपाल यादव ने कहा कि अखिलेश उनके भतीजे हैं और रहेंगे। परिवार पहले है और पार्टी बाद में। कुछ लोग थे जो समाजवादी पार्टी का झंडा लगाकर परिवार की लड़ाई को भड़काते रहे। आज वही लोग कोसरिया गमछा डालकर नई सरकार में फायदा उठा रहे हैं। अखिलेश उन्हें पहचान नहीं पाए।




इसके बाद गो​मती रिवर ​फ्रंट के घोटाले पर पूछे गए सवाल पर जवाब देते हुए शिवपाल यादव ने कहा कि अपने रहते उन्होंने किसी प्रकार की कोई गड़बड़ी होने नहीं दी। अगर कहीं कोई​ शिकायत मिली तो उन्होंने तुरंत एक्शन लेते हुए अधिकारियों को डांटा और सही काम करवाया। आज जो अधिकारी रिवर फ्रंट से खुद के दूर होने की बात कह रहे हैं उन्हें देखना होगा कि फाइनेन्स और प्रोजेक्ट की मॉनीटरिंग कर कौन रहा था।

{ यह भी पढ़ें:- CBI के रडार पर यूपी के कई सफेदपोश समेत हजारों की संख्या में पीसीएस-इंजीनियर }

Loading...