शिवपाल बोले- तबलीगी जमात में शामिल हुए लोग दें प्रशासन को सूचना, सरकार प्रसपा कार्यकर्ताओं की ले सकती है मदद

shivpal yadav
शिवपाल यादव का बीजेपी सरकार पर तंज, मदिरालय में भीड़ और देवालय सूना!

लखनऊ। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज़ में विदेशों से पहुंचे तब्लीगी जमात के सदस्यों की वजह से पूरे देश में अफरा तफरी का माहौल हो गया है। वहीं बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में भी जमात से 157 लोग आये हैं, जिनकी छापेमारी की जा रही है। लखनऊ के तबलीगी जमात के ठिकाने में भी छापेमारी की गयी तो 6 विदेशी मौलाना मिले हैं। वहीं प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल यादव ने अपील की है कि तबलीगी जमात में शामिल हुए लोग तत्काल प्रशासन को सूचना दें।

Shivpal Said People Involved In Tabligi Jamaat Should Give Information To The Administration :

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि लॉकडाउन के बावजूद दिल्ली में निजामुद्दीन इलाके में स्थित तब्लीगी मरकज में मौजूद 24 लोगों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद संक्रमण की आशंका गहरा गई है। उन्होंने कहा है कि अब आवश्यक है जमात में शामिल होकर विभिन्न राज्यों में वापस लौटे लोग स्वयं को सेल्फ क्वारांटाइन करें और प्रशासन को इसकी सूचना दें। शिवपाल ने ट्वीट कर लोगों से अपील की है।

इससे पहले प्रगतिशिल समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कहा है कि सरकार को अगर स्वयंसेवकों की आवश्यकता पड़े तो प्रसपा के कार्यकर्ता इसके लिए तैयार हैं। उन्‍होंने कहा कि कोरोना महामारी के विरुद्ध पूरा देश संकल्पबद्ध है। इस महामारी की एक बड़ी कीमत समाज का वंचित तबका चुका रहा है, ऐसे में सभी यह भी सुनिश्चित करें कि हमारे आस पास कोई भी भूखा न रहे। सरकार को अगर स्वयंसेवकों की आवश्यकता पड़े तो प्रसपा के कार्यकर्ता इसके लिए तैयार हैं।

बताया जा रहा है कि यूपी के बहराइच, गोंडा, बलरामपुर, गाजियाबाद, प्रयागराज, भदोही, लखनऊ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बाराबंकी, मेरठ, बागपत, बिजनौर, आगरा, वाराणसी, हापुड़, मथुरा, शामली और सीतापुर में जमात से जुड़े 157 लोग आये हैं। पूरे यूपी में लगातार छापेमारी की जा रही है। लिस्ट में सबसे ज्यादा मुजफ्फरनगर के 28 लोग और राजधानी लखनऊ के 20 लोग शामिल हैं। बता दें कि दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में हुए तब्लीगी जमात में अलग-अलग राज्यों और अलग अलग देशों के लोग शामिल हुए थे।

लखनऊ। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज़ में विदेशों से पहुंचे तब्लीगी जमात के सदस्यों की वजह से पूरे देश में अफरा तफरी का माहौल हो गया है। वहीं बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में भी जमात से 157 लोग आये हैं, जिनकी छापेमारी की जा रही है। लखनऊ के तबलीगी जमात के ठिकाने में भी छापेमारी की गयी तो 6 विदेशी मौलाना मिले हैं। वहीं प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल यादव ने अपील की है कि तबलीगी जमात में शामिल हुए लोग तत्काल प्रशासन को सूचना दें। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि लॉकडाउन के बावजूद दिल्ली में निजामुद्दीन इलाके में स्थित तब्लीगी मरकज में मौजूद 24 लोगों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद संक्रमण की आशंका गहरा गई है। उन्होंने कहा है कि अब आवश्यक है जमात में शामिल होकर विभिन्न राज्यों में वापस लौटे लोग स्वयं को सेल्फ क्वारांटाइन करें और प्रशासन को इसकी सूचना दें। शिवपाल ने ट्वीट कर लोगों से अपील की है। इससे पहले प्रगतिशिल समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कहा है कि सरकार को अगर स्वयंसेवकों की आवश्यकता पड़े तो प्रसपा के कार्यकर्ता इसके लिए तैयार हैं। उन्‍होंने कहा कि कोरोना महामारी के विरुद्ध पूरा देश संकल्पबद्ध है। इस महामारी की एक बड़ी कीमत समाज का वंचित तबका चुका रहा है, ऐसे में सभी यह भी सुनिश्चित करें कि हमारे आस पास कोई भी भूखा न रहे। सरकार को अगर स्वयंसेवकों की आवश्यकता पड़े तो प्रसपा के कार्यकर्ता इसके लिए तैयार हैं। बताया जा रहा है कि यूपी के बहराइच, गोंडा, बलरामपुर, गाजियाबाद, प्रयागराज, भदोही, लखनऊ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बाराबंकी, मेरठ, बागपत, बिजनौर, आगरा, वाराणसी, हापुड़, मथुरा, शामली और सीतापुर में जमात से जुड़े 157 लोग आये हैं। पूरे यूपी में लगातार छापेमारी की जा रही है। लिस्ट में सबसे ज्यादा मुजफ्फरनगर के 28 लोग और राजधानी लखनऊ के 20 लोग शामिल हैं। बता दें कि दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में हुए तब्लीगी जमात में अलग-अलग राज्यों और अलग अलग देशों के लोग शामिल हुए थे।