देश के विकास के लिए ‘एक राष्ट्र-एक चुनाव’ जरूरी : शिवराज सिंह चौहान

देश के विकास के लिए 'एक राष्ट्र-एक चुनाव' जरूरी : शिवराज सिंह चौहान
देश के विकास के लिए 'एक राष्ट्र-एक चुनाव' जरूरी : शिवराज सिंह चौहान

Shivraj Singh Chauhan Says One Nation One Election Should Be Discussed With Every Party

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पांच साल में सभी चुनाव एक साथ कराने की पैरवी की है। इसके लिए राज्य स्तर पर मंथन करने के लिए उन्होंने एक समिति बनाने का भी ऐलान किया है। यह समिति तमाम राजनीतिक दलों, आम मतदाताओं सहित अन्य लोगों से विचार-विमर्श कर अपनी रिपोर्ट सरकार को देगी।

चौहान ने रविवार को अपने आवास पर संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा, “देश से लेकर प्रदेश के किसी न किसी हिस्से में कोई न कोई चुनाव होते रहते हैं, इसके चलते आचार संहिता लागू होने के कारण विकास कार्य प्रभावित होते हैं। लिहाजा प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति ने भी एक साथ सभी चुनाव कराने की बात कही है। राज्य सरकार भी इस पक्ष में है। इसकी समीक्षा और मंथन के लिए राज्य में एक समिति का गठन किया गया है।”

चौहान ने बताया कि इस समिति के अध्यक्ष संसदीय कार्यमंत्री नरोत्तम मिश्रा होंगे और इस समिति में महेश श्रीवास्तव, गिरिजा शंकर, लाल सिंह आर्य, विष्णु दत्त शर्मा, एम एम उपाध्याय, आर एस रुपला, वीणा राणा और तपन भौमिक सदस्य होंगे।

चौहान ने त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय में भाजपा को मिली सफलता पर प्रसन्नता जाहिर की। साथ ही कहा कि उस मिथक को भी भाजपा ने तोड़ दिया है, जिसमें कहा जाता था कि गैर कांग्रेसी राज्यों में भाजपा जगह नहीं बना सकती।

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पांच साल में सभी चुनाव एक साथ कराने की पैरवी की है। इसके लिए राज्य स्तर पर मंथन करने के लिए उन्होंने एक समिति बनाने का भी ऐलान किया है। यह समिति तमाम राजनीतिक दलों, आम मतदाताओं सहित अन्य लोगों से विचार-विमर्श कर अपनी रिपोर्ट सरकार को देगी। चौहान ने रविवार को अपने आवास पर संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा, "देश से लेकर प्रदेश के किसी न किसी हिस्से में…