कांग्रेस के 11 नेताओं को कारण बताओ नोटिस जारी, पार्टी के निर्णयों को लेकर खोला था मोर्चा

congress
कांग्रेस के 11 नेताओं को कारण बताओ नोटिस जारी, पार्टी के निर्णयों को लेकर खोला था मोर्चा

लखनऊ। कांग्रेस के वरिष्ठ 11 नेताओं को अनुशासनात्मक समिति ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। बीते दिनों पार्टी के निर्णयों को लेकर इन नेताओं ने मोर्चा खोला था था, जिसके कारण उन्हें नोटिस दिया गया है। इन नेताओं पर उप्र कांग्रेस कमेटी से संबंधित फैसलों को लेकर सार्वजनिक रूप से बैठक करके विरोध करने और पार्टी की छवि धूमिल करने का आरोप लगाया गया है।

Show Cause Notice Issued To 11 Congress Leaders Front Opened Due To Partys Decisions :

सभी से 24 घंटे के अंदर उनके आचरण को लेकर स्पष्टीकरण मांगा गया है। पार्टी के जिन 11 नेताओं को नोटिस जारी किया गया है, उनमें एक पूर्व सांसद संतोष सिंह और 2 पूर्व मंत्रियों के अलावा 5 पूर्व विधायक भी शामिल हैं। कारण बताओ नोटिस में आरोप लगाया गया कि इन नेताओं ने कांग्रेस के फैसले पर अनावश्यक और सार्वजनिक तौर पर विरोध जताया जिससे पार्टी की छवि धूमिल हुई है।

इनको मिला नोटिस
पूर्व सांसद संतोष सिंह, पूर्व एमएलसी सिराज मेहंदी, पूर्व गृहमंत्री रामकृष्ण द्विवेदी, पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी, सदस्य अभा कांग्रेस कमेटी राजेंद्र सिंह सोलंकी, पूर्व विधायक भूधर नारायण मिरा, पूर्व विधायक हाफिज मो. उमर, पूर्व विधायक विनोद चौधरी, पूर्व विधायक नेकचंद्र पांडेय, पूर्व अध्यक्ष यूथ कांग्रेस स्वयं प्रकाश गोस्वामी और पूर्व जिलाध्यक्ष गोरखपुर संजीव सिंह को अनुशासनहीनता बरतने का नोटिस जारी किया है।

लखनऊ। कांग्रेस के वरिष्ठ 11 नेताओं को अनुशासनात्मक समिति ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। बीते दिनों पार्टी के निर्णयों को लेकर इन नेताओं ने मोर्चा खोला था था, जिसके कारण उन्हें नोटिस दिया गया है। इन नेताओं पर उप्र कांग्रेस कमेटी से संबंधित फैसलों को लेकर सार्वजनिक रूप से बैठक करके विरोध करने और पार्टी की छवि धूमिल करने का आरोप लगाया गया है। सभी से 24 घंटे के अंदर उनके आचरण को लेकर स्पष्टीकरण मांगा गया है। पार्टी के जिन 11 नेताओं को नोटिस जारी किया गया है, उनमें एक पूर्व सांसद संतोष सिंह और 2 पूर्व मंत्रियों के अलावा 5 पूर्व विधायक भी शामिल हैं। कारण बताओ नोटिस में आरोप लगाया गया कि इन नेताओं ने कांग्रेस के फैसले पर अनावश्यक और सार्वजनिक तौर पर विरोध जताया जिससे पार्टी की छवि धूमिल हुई है। इनको मिला नोटिस पूर्व सांसद संतोष सिंह, पूर्व एमएलसी सिराज मेहंदी, पूर्व गृहमंत्री रामकृष्ण द्विवेदी, पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी, सदस्य अभा कांग्रेस कमेटी राजेंद्र सिंह सोलंकी, पूर्व विधायक भूधर नारायण मिरा, पूर्व विधायक हाफिज मो. उमर, पूर्व विधायक विनोद चौधरी, पूर्व विधायक नेकचंद्र पांडेय, पूर्व अध्यक्ष यूथ कांग्रेस स्वयं प्रकाश गोस्वामी और पूर्व जिलाध्यक्ष गोरखपुर संजीव सिंह को अनुशासनहीनता बरतने का नोटिस जारी किया है।