1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Shraddha Murder Case: 18 दिनों तक श्रद्धा के शव के टुकड़ों को फेंकता रहा दरिंदा आफताब, फ्रीज में ऐसे रखा थी लाश

Shraddha Murder Case: 18 दिनों तक श्रद्धा के शव के टुकड़ों को फेंकता रहा दरिंदा आफताब, फ्रीज में ऐसे रखा थी लाश

देश की राजधानी दिल्ली में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां पर एक युवती की बेरहमी से हत्या कर दी गई। हत्यारे ने उसके शव के 35 टुकड़े किए थे। वारदात के बाद 18 दिनों तक हत्यारा शव के टुकड़ों को शहर के विभिन्न स्थानों पर फेंकता रहा। वारदात का खुलासा होने के बाद हड़कंप मच गया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Shraddha Murder Case: देश की राजधानी दिल्ली में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां पर एक युवती की बेरहमी से हत्या कर दी गई। हत्यारे ने उसके शव के 35 टुकड़े किए थे। वारदात के बाद 18 दिनों तक हत्यारा शव के टुकड़ों को शहर के विभिन्न स्थानों पर फेंकता रहा। वारदात का खुलासा होने के बाद हड़कंप मच गया। पुलिस ने आरोपी आफताब को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना आरोपी से पूछताछ कर कर इस घटना से जुड़ी जानकारी जुटाई जा रही है।

पढ़ें :- China Spy Balloon : लैटिन अमेरिका में भी दिखा चीन का जासूसी गुब्बारा,चीन का इनकार

पुलिस का कहना है कि दिल्ली निवासी आफताब अमीन पूनावाला प्रेमिका श्रद्धा वाकर के साथ रहता था। आफताब और श्रद्धा की दोस्ती मुंबई में एक कॉल सेंटर में काम के दौरान हुई थी। दोस्ती देखते ही देखते प्यार में बदल गई। इसकी जानकारी श्रद्धा के परिजनों को हुई तो उन्होंने इसका विरोध किया। इस पर दोनो मुंबई छोड़कर दिल्ली में रहने की योजना बना लिए और वहां पर आ गए। हालांकि युवती के परिजन उससे सोशल मीडिया से जुड़े थे। सोशल मीडिया के जरिए ही उसका हाल-चाल लेते रहते थे। बीते कुछ दिनों से श्रद्धा के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली तो पिता विकास मदान वाकर ने 8 नवंबर को दिल्ली के महरौली थाने में बेटी के अपहरण का केस दर्ज कराया।

ऐसे हुई वारदात की जानकारी
पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो सबसे पहले आफताब की तलाश शुरू की। इस दौरान आफताब को दबोच लिया। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि श्रद्धा उसपर लगातार शादी का दबाव बना रही थी, जिसको लेकर उनके बीच में अक्सर झगड़ा होना शुरू हो गया। इसको लेकर उसने मई में उसकी हत्या कर दी थी।

हत्या के बाद शव के किए थे 35 टुकड़े
आरोपी ने पूछताछ में बताया कि श्रद्धा की हत्या के बाद उस के शव के 35 ​टुकड़े गिए थे। इसके बाद शव के टुकड़ों को अलग-अलग जगह पर जंगल में फेंक दिए। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आफताब ने श्रद्धा की गला घोंटकर हत्या की थी।

फ्रिज में रखा शव के टुकड़े
वारदात के बाद आफताब एक नया बड़ा फ्रिज खरीदकर लाया। 18 दिन तक वह रात को दो बजे शरीर के टुकड़े को एक-एक कर प्लास्टिक बैग में लेकर जाता था और फेंक कर आ जाता था।

पढ़ें :- Ramcharitmanas controversy : रामचरितमानस विवाद पर बोले CM भूपेश बघेल- वाद-विवाद करना गलत है, जो अच्छी चीजें हैं उसको ग्रहण कर लीजिए

 

 

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...