1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Attack on Aftab: ये हमारी बहन के 35 टुकड़े किया था हम इसके 70 टुकड़े करेंगे…पकड़े गए हमलावर ने कहा

Attack on Aftab: ये हमारी बहन के 35 टुकड़े किया था हम इसके 70 टुकड़े करेंगे…पकड़े गए हमलावर ने कहा

श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब पर हमले की कोशिश की गई। ये हमला दिल्ली के रोहिणी में हुआ। बताया जा रहा है कि कार से सवार होकर करीब 10 से 15 लोग हमले की योजना बनाकर आए थे। वहीं, कुछ हमलावरों को पुलिस ने हिरासत में लिया और उनसे पूछताछ की जा रही है। इसके साथ ही एक कार को पुलिस ने जब्त किया है। बताया जा रहा है कि कार में तलावारें और हथौड़े पुलिस ने बरामद किया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Attack on Aftab: श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब पर हमले की कोशिश की गई। ये हमला दिल्ली के रोहिणी में हुआ। बताया जा रहा है कि कार से सवार होकर करीब 10 से 15 लोग हमले की योजना बनाकर आए थे। वहीं, कुछ हमलावरों को पुलिस ने हिरासत में लिया और उनसे पूछताछ की जा रही है। इसके साथ ही एक कार को पुलिस ने जब्त किया है। बताया जा रहा है कि कार में तलावारें और हथौड़े पुलिस ने बरामद किया है।

पढ़ें :- गौतम अडानी का साम्राज्य तबाह करने वाले नाथन एंडरसन जानें कौन हैं?

एक हमलावार ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि सुबह से वो इंतजार कर रहे थे। उसने कहा कि वो गुडगांव से आए थे और इंतजार कर रहे थे। एक न्यूज चैनल से बातचीत करते हुए हमलावार ने कहा कि आफताब ने हमारी बहन बेटी के 35 टुकड़े किए थे। हम उसके 70 टुकड़े करने के लिए आए थे।

पुलिस ने तानी बंदूक तो रूके हमलावार
आफताब जिस गाड़ी में बैठा हुआ था उस पर हमलावारों ने हमला कर दिया। ये देख पुलिस के एक जवान ने उन पर बंदूक तान दी और हमलावरों को चेतावनी दी,​ जिसके बाद वो पीछे हटे। बताया जा रहा है कि, गुस्साई भीड़ ने पुलिस वैन पर पत्थरबाजी भी की है। आफताब की गाड़ी पर हमला करने वाले कुछ आरोपियों को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

एफएसएल कार्यालय के बाहर हुआ हमला
घटना के समय आफताब पुलिस की वैन में बैठा था। ये घटना उस दौरान हुई जब पुलिस आफताब को लेकर एफएसएल कार्यालय के बाहर वैन से जा रही थी। तभी 4-5 लोगों ने गाड़ी पर हमला कर दिया। मीडिया रिपोर्ट की माने तो हमलावरों ने कहा कि अगर कोई ऐसा करता है तो हम उसे बख्शेंगे नहीं। बताते चलें कि श्रद्धा वॉल्कर के मर्डर का आरोपी आफताब अमीन पूनावाला पॉलीग्राफ टेस्ट के लिए फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (FSL) लाया गया था। वहां से बाहर निकलते समय कुछ लोगों ने हमले की कोशिश की।

 

पढ़ें :- जिस देश के युवा उत्साह और जोश से भरे हुए हों, उस देश की प्राथमिकता सदैव युवा ही होंगे: पीएम मोदी

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...