1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Shrikant Sharma Jeevan Parichay : क्रिकेटर बनना चाहते थे श्रीकांत शर्मा, इस तरह हुई राजनीति में एंट्री

Shrikant Sharma Jeevan Parichay : क्रिकेटर बनना चाहते थे श्रीकांत शर्मा, इस तरह हुई राजनीति में एंट्री

Shrikant Sharma Jeevan Parichay: बचपन से क्रिकेटर बनने का सपना देखने वाले श्रीकांत शर्मा की एंट्री राजनीति में हो गई। छात्र राजनीति में सक्रियता बढ़ने के बाद उन्होंने एबीवीपी ज्वॉइन की। कई आंदोलन में गिरफ्तारी भी दी। छात्र राजनीति के दौरान उन्होंने संगठन में अपनी मजबूत पकड़ बनाई। 2017 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने श्रीकांत शर्मा को मथुरा से चुनावी मैदान में उतार, जहां से वो जीतकर विधानसभा पहुंचे।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Shrikant Sharma Jeevan Parichay: बचपन से क्रिकेटर बनने का सपना देखने वाले श्रीकांत शर्मा की एंट्री राजनीति में हो गई। छात्र राजनीति में सक्रियता बढ़ने के बाद उन्होंने एबीवीपी ज्वॉइन की। कई आंदोलन में गिरफ्तारी भी दी। छात्र राजनीति के दौरान उन्होंने संगठन में अपनी मजबूत पकड़ बनाई। 2017 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने श्रीकांत शर्मा को मथुरा से चुनावी मैदान में उतार, जहां से वो जीतकर विधानसभा पहुंचे। योगी सरकार में उन्हें ऊर्जा मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

पढ़ें :- Rama Shankar Singh Patel jeevan parichay : रमाशंकर दिग्गज कांग्रेसी को हराकर बने विधायक, योगी ने दिया मंत्री पद

जीवन शैली…
श्रीकांत शर्मा मथुरा के निर्वाचन क्षेत्र 84 से विधायक हैं। पिता का नाम स्व0 राधारमण शर्मा है। पिता पेशे से अध्यापक थे। साथ ही आरएसएस से उनका जुड़ाव भी था। इनका जन्म 01 जुलाई, 1970 को हुआ था। स्नातक तक इन्होंने पढ़ाई की। पत्नी का नाम शालिनी शर्मा है और इनके दो पुत्र हैं।

राजनीतिक इतिहास…
श्रीकांत शर्मा दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षा के लिए पहुंचे तो वहां पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) से जुड़कर विश्वविद्यालय की छात्र राजनीति में सक्रिय हुए। छात्र राजनीति के दौरान कई आंदोलन में भाग ​लिया, जिसके कारण उन्हें गिरफ्तारी भी देनी पड़ी। छात्र राजीनित में सक्रियाता के कारण श्रीकांत शर्मा पीजीडीएवी कॉलेज से राजनीति विज्ञान में ग्रेजुएशन किया। छात्र राजनीति में सक्रिय रहने के कारण श्रीकांत शर्मा प्रभावशाली नेताओं के नजर में आ गए। लिहाजा, 1993 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में उन्हें कई अहम जिम्मेदारी दी गई। इसके बाद उन्हें यूपी और गुजरात के चुनाव में 2012 में मीडिया प्रबंधक की जिम्मेदारी दी गई। इसके बाद 2014 में श्रीकांत शर्मा ने हरियाणा और महाराष्ट्र चुनाव में भी मीडिया प्रबंधन की जिम्मेदारी उठाई। वहीं, 2017 विधानसभा चुनाव में उन्हें भाजपा ने मथुरा से टिकट दे दिया, जिसके बाद वो जीतकर विधानसभा पहुंचे। इसके बाद योगी सरकार में इन्हें ऊर्जा मंत्री की जिम्मेदारी दी गई।

ये है पूरा सफरनामा…
नाम — श्रीकांत शर्मा
पिता — स्व. राधारमण शर्मा
जन्‍म तिथि — 01 जुलाई 1970
धर्म — हिन्दू
जाति — ब्राह्मण
शिक्षा — स्नातक
पत्‍नी का नाम — शालिनी शर्मा
सन्तान — दो पुत्र
व्‍यवसाय — व्यापार

राजनीतिक योगदान…
मार्च 2017 — सत्रहवीं विधान सभा सदस्य प्रथम बार निर्वाचित
मार्च 2017 — ऊर्जा मंत्री (योगी आदित्य नाथ मंत्रिमण्डल)

पढ़ें :- Ratnakar Mishra jeevan parichay : मां विंध्यवासिनी मंदिर के पुरोहित रत्नाकर मिश्रा बने विधायक, 20 साल बाद खिलाया कमल

अन्‍य जानकारी
छात्रसंघ अध्यक्ष, पीजीडीएवी कालेज (1990-91), विभाग प्रमुख, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद दिल्ली, विभाग प्रमुख, भाग युवा मोर्चा (1991-1994), राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी, भारतीय जनता पार्टी (2008-2014), राष्ट्रीय सचिव एवं मीडिया प्रभारी, (2014-2017), संगठन प्रभारी, हि0 यु0, (2014-2017)।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...