1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Dhanteras 2021 : धनतेरस पर बुध कर रहे हैं राशि परिवर्तन, इन 6 राशियों की होगी बल्ले-बल्ले

Dhanteras 2021 : धनतेरस पर बुध कर रहे हैं राशि परिवर्तन, इन 6 राशियों की होगी बल्ले-बल्ले

Dhanteras Budh Rashi Parivartan 2021: धनतेरस (Dhanteras ) कार्तिक मास (Kartik month) के कृष्‍णपक्ष की त्रयोदशी तिथि (Trayodashi date of Krishna Paksha) 2 नंवबर दिन मंगलवार को मनाई जाएगी। इस दिन धन के देवता कुबेर, मां लक्ष्‍मी, धन्‍वतंरि और यमराज की पूजा की जाती है। इस बार धनतेरस (Dhanteras )  पर त्रिपुष्कर योग (Tripushkar Yoga) बन रहा है। इस योग के निर्माण में बुध का राशि परिवर्तन (Mercury's zodiac change) भी अहम है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Dhanteras Budh Rashi Parivartan 2021: धनतेरस (Dhanteras ) कार्तिक मास (Kartik month) के कृष्‍णपक्ष की त्रयोदशी तिथि (Trayodashi date of Krishna Paksha) 2 नंवबर दिन मंगलवार को मनाई जाएगी। इस दिन धन के देवता कुबेर (Kuber, the God of Wealth) , मां लक्ष्‍मी (mother lakshmi), धन्‍वतंरि और यमराज की पूजा (Worship of Yamraj) की जाती है। इस बार धनतेरस (Dhanteras )  पर त्रिपुष्कर योग (Tripushkar Yoga) बन रहा है। इस योग के निर्माण में बुध का राशि परिवर्तन (Mercury’s zodiac change) भी अहम है।

पढ़ें :- Dhanteras 2021 : आज जरूर करें ये आरती, मां लक्ष्मी की बरसेगा कृपा होंगे मालामाल

ज्योतिष के अनुसार बुध एक मित्र राशि तुला में गोचर कर रहा है। बुध को देवताओं का दूत कहा जाता है। इस दिन बुध का राशि परिवर्तन (Budh ka rashi parivartan) 6 राशियों के जातकों के लिए बेहद शुभ माना जा रहा है। जानें ये परिवर्तन आपकी राशि पर क्या प्रभाव डालने वाला है?

बुध का तुला राशि में गोचर 2 नवंबर को सुबह 9 बजकर 43 मिनट पर होगा। वहीं 11 बजकर 43 मिनट से त्रिपुष्कर योग रहेगा। ज्योतिष के अनुसार तुला राशि में बुध का गोचर, रोमांस और रिश्ते के संकेत, आपके जीवन में कुछ बड़े बदलाव लेकर आ सकता है। वहीं यह आपकी आर्थिक जीवन में भी उतार चढ़ाव लेकर आ सकता है।

मेष (Aries) : मेष चंद्र राशि (Aries Moon Sign) के लिए, बुध अपने साझेदारी के सातवें घर में तुला राशि में गोचर करने जा रहे हैं। बुध मेष राशि के तीसरे और छठे भाव का स्वामी है। इस राशि के जातकों के लिए पेशेवर रूप से इस अवधि में पर्याप्त अवसर होंगे। भविष्य में बेहतर परिणामों के लिए अंतिम निर्णय लेने से पहले चीजों का आंकलन करने की सलाह दी जाती है।

वृषभ (Taurus) : वृषभ चंद्र राशि (Taurus Moon Sign) के लिए बुध दूसरे और पांचवें भाव का स्वामी है, जो ऋण, शत्रु और दैनिक मजदूरी के छठे भाव में गोचर कर रहा है। व्यावसायिक रूप से बुध का तुला राशि में गोचर वृष राशि के जातकों को करियर उन्मुख बनाने वाला है। व्यावसायिक रूप से यदि आप अपनी नौकरी में पहचान प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको अपनी रचनात्मक और आविष्कारशील क्षमताओं पर काम करना होगा ।

पढ़ें :- Dhanteras 2021: धनतेरस के दिन करें ये अचूक उपाय, मिलेगी आर्थिक संकटों से मुक्ति

मिथुन (Gemini) : मिथुन राशि के लिए बुध पंचम भाव में गोचर करेगा जो पहले और चौथे भाव का स्वामी है। गोचर के दौरान बुध लग्न भाव से जुड़ा होने के कारण समग्र व्यक्तित्व को प्रभावित करने वाला है। व्यावसायिक रूप से बुध का गोचर रचनात्मकता और बुद्धि के पंचम भाव में होगा। इसलिए कार्यक्षेत्र में आपकी रचनात्मक क्षमता में वृद्धि होने वाली है।

कर्क (Cancer) : कर्क राशि के लिए बुध 12वें और तीसरे भाव का स्वामी है। चतुर्थ भाव में गोचर कर रहा है। यह भाव जीवन में अचल संपत्ति, आराम और विलासिता का प्रतिनिधित्व करता है। इस दौरान बुध आपको परिवार के सदस्यों के साथ शांतिपूर्ण वातावरण प्रदान करेगा। इस गोचर के दौरान कुछ अनियोजित खर्च होगा।

सिंह (Leo) : सिंह राशि के लिए बुध दूसरे और 11वें भाव का स्वामी है। इस राशि के जातक के संचार और वाणी के तीसरे भाव में गोचर कर रहा है। इस अवधि में अपनी बुद्धि और रचनात्मकता से प्रेरित होंगे। आपको अपने पेशेवर जीवन में भी पहचान मिलेगी।

कन्या (Virgo) : कन्या राशि के लिए बुध पहले और दसवें भाव का स्वामी है। परिवार, धन और वाणी के दूसरे भाव में गोचर कर रहा है। यह अवधि घरेलू वातावरण में कुछ चुनौतियां ला सकती है। बेहतर जानकारी वाले निर्णय लेने के लिए स्थिति के गहन विश्लेषण की मांग करेगी। कार्यस्थल पर अपने वरिष्ठों और सहकर्मियों के साथ संवाद करते समय आपको सतर्क रहना चाहिए।

तुला (Libra) : तुला चंद्र राशि (Libra moon sign) के लिए बुध 12वें और नौवें भाव का स्वामी है। तुला राशि के लिए लग्न में गोचर कर रहा है। यह अवधि आपको पीछे हटने और विश्लेषण करने की मांग कर सकती है, कि क्या गलत हुआ और किस बिंदु पर इसने आपको अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने और अपनी इच्छाओं को पूरा करने से रोक दिया। इस गोचर के दौरान मानसिक शांति थोड़ी भंग हो सकती है।

पढ़ें :- Dhanteras Puja Muhurat: जानिए आपके शहर में धनतेरस पूजन का शुभ मुहूर्त क्या है?

वृश्चिक (Scorpio) : वृश्चिक राशि के लिए बुध एकादश और आठवें भाव का स्वामी है। 12वें भाव में व्यय, हानि और विदेशी लाभ के भाव में गोचर कर रहा है। आपको व्यक्तिगत जीवन और पेशेवर जीवन दोनों में सफलता प्राप्त करने की दिशा में काम करने की आवश्यकता है, चाहे आप किसी भी वातावरण में काम कर रहे हों। तभी आपको इस अवधि के दौरान वांछित परिणाम प्राप्त होने वाले हैं।

धनु (Sagittarius) : धनु राशि के लिए बुध 7वें और 10वें भाव का स्वामी है। धन, कामना और लाभ के बुध एकादश भाव में गोचर कर रहा है। तुला राशि में गोचर करते समय बुध धनु राशि के जातकों के लिए बहुत सकारात्मक रहेगा क्योंकि आपको सफलता और वृद्धि के लिए अपने जीवनसाथी और व्यावसायिक भागीदारों का सहयोग मिलेगा।

मकर (Capricorn) : मकर राशि के लिए बुध छठे और नवम भाव का स्वामी है। बुध दशम भाव में गोचर कर रहा है। इस राशि के जातकों के लिए यह समय फलदायी रहने वाला है। यह कर्म भाव में गोचर कर रहा है, जो उनके भाग्य को चुने हुए करियर क्षेत्र में धकेल देगा। आपको अपने परिवार के सदस्यों से सम्मान और पहचान मिलेगी और आप इस अवधि में बच्चों पर अधिक ध्यान देंगे।

कुंभ (Aquarius) : कुंभ राशि के लिए बुध पंचम और आठवें भाव का स्वामी है। बुध भाग्य के नवम भाव में गोचर कर रहा है। यह आपके लिए अपने पेशेवर साम्राज्य का निर्माण करने के लिए भाग्य के द्वार खोलने वाला है। कुंभ राशि के जातकों के लिए किसी प्रोजेक्ट या अच्छे से किए गए काम की प्रशंसा होगी। आपको सलाह दी जाती है कि आप अपने व्यापारिक लेन-देन में सावधानी से व्यवहार करें।

मीन (Pisces) : मीन राशि के जातकों के लिए बुध चतुर्थ और सप्तम भाव का स्वामी है। बुध अष्टम भाव में अचानक हानि/लाभ, उत्तराधिकार और गुप्त विद्या के भाव में गोचर कर रहा है। व्यावसायिक रूप से, यह अवधि मौद्रिक लाभ लाएगी, लेकिन काम के मोर्चे को स्थिर करेगी। आपको इस अवधि में व्यावसायिक भागीदारों और सहकर्मियों के साथ अपने व्यवहार से सावधान रहने की आवश्यकता है।

पढ़ें :- Dhanteras 2021: सजे धजे आंगन में पधारेंगी मां लक्ष्मी, स्वागत में बनायें रंगोली
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...