एसआईबी टीम ने छापामारी कर सोनौली ट्रांसपोर्ट कंपनी का किया बड़ा खुलासा

nepal
27 सदस्यीय टीम खंगाल रही सोनौली में जीएसटी चोरी का खेल

सोनौली:: इंडो-नेपाल बार्डर के सोनौली के रास्ते नेपाल में व्यापार के नाम जीएसटी में चोरी की प्रारम्भिक जांच में कई खामियां मिलने पर सीआईबी के ज्वाइंट कमिश्नर रमेश चंद्र दूबे ने 67 बिल्टी के 25 सौ सामान को सीज कर दिया। इन सभी सामान का व्यापार करने वाले कारोबारियों व ट्रांसपोर्ट को नोटिस जारी किया है। इससे सोनौली के व्यापारियों में हड़कंप मच गया है।

Sib Team Raids Sonouli Transport Company Reveals Big :

सीआईबी गोरखपुर के ज्वाइंट कमिश्नर रमेश चंद्र दूबे व जीएसटी का कार्य देखने वाली अधिकारियों की 27 सदस्यीय टीम गुरुवार से सोनौली में जांच कर रही है। कई व्यापारिक ठिकानों पर छापा मारा गया। एक परिवहन लिमिटेड फर्म के दो गोदाम व आफिस के सभी दस्तावेज व कम्प्यूटर को कब्जे में ले लिया। देर शाम तक चली कार्रवाई में जीएसटी चोरी इवेबिल समेत कई खामियां अधिकारियों ने पकड़ा। इस पर 67 बिल्टी के 25 सौ सामान/माल को सीज कर दिया।

बीच रास्ते में ही सामान उतार जीएसटी में हो रही चोरी

इंडो-नेपाल के सोनौली बार्डर पर जीएसटी में चोरी का खेल पुराना है। लेकिन इस बार बड़ी कार्रवाई के बाद कई चौंकाने वाले राज उजागर हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक व्यापारी नेपाल सामान भेजने के नाम पर सोनौली तक बुकिंग कराते हैं। लेकिन रास्ते में ही उसको उतार दिया जाता है। सोनौली, नौतनवा व महराजगंज में विभिन्न सामानों का कारोबार करने वाले व्यापारी खुदरा बिल्टी की गाड़ियों में फर्जी बिल पर माल मंगाते हैं। हैरत वाली बात यह है कि आलू के नाम पर प्याज नेपाल भेज दी जा रही है। इसी तरह अन्य सामान के कारोबार में भी जीएसटी की चोरी कर देश को आर्थिक क्षति पहुंचाया जा रहा है। अब सीआईबी की कार्रवाई के बाद सोनौली से लेकर नौतनवा के सभी नेपाल सर्विस करने वाले ट्रांसपोर्टरों में खलबली मच गई है। व्यापारी फर्जी बिल के माल समान को ठिकाने लगाने में जुट गए हैं।

रमेश चंद्र दूबे-ज्वाइंट कमिश्नर एसआईबी गोरखपुर ने बताया सोनौली में जीएसटी की प्रारम्भिक जांच में टैक्स चोरी का मामला बड़ा सामने आ रहा है। ट्रांसपोर्ट खुदरा व्यापारियों को लाभ पहुंचाने के लिए विशेष रूप से काम करता है। ई वे बिल में बड़ी अनिमियता पाई गई है। साथ ही व्यापारियों के ट्रांसपोर्ट में माल रखने पर आपत्ति जताई। 67 बिल्टी के सामान को सीज कर सभी व्यापारियों और ट्रांसपोर्ट को नोटिस भेजा गया है। सोमवार को अधिकारी पुन: गोदाम में पहुंच कर आगे की कार्यवाही करेंगे।

सोनौली:: इंडो-नेपाल बार्डर के सोनौली के रास्ते नेपाल में व्यापार के नाम जीएसटी में चोरी की प्रारम्भिक जांच में कई खामियां मिलने पर सीआईबी के ज्वाइंट कमिश्नर रमेश चंद्र दूबे ने 67 बिल्टी के 25 सौ सामान को सीज कर दिया। इन सभी सामान का व्यापार करने वाले कारोबारियों व ट्रांसपोर्ट को नोटिस जारी किया है। इससे सोनौली के व्यापारियों में हड़कंप मच गया है। सीआईबी गोरखपुर के ज्वाइंट कमिश्नर रमेश चंद्र दूबे व जीएसटी का कार्य देखने वाली अधिकारियों की 27 सदस्यीय टीम गुरुवार से सोनौली में जांच कर रही है। कई व्यापारिक ठिकानों पर छापा मारा गया। एक परिवहन लिमिटेड फर्म के दो गोदाम व आफिस के सभी दस्तावेज व कम्प्यूटर को कब्जे में ले लिया। देर शाम तक चली कार्रवाई में जीएसटी चोरी इवेबिल समेत कई खामियां अधिकारियों ने पकड़ा। इस पर 67 बिल्टी के 25 सौ सामान/माल को सीज कर दिया। बीच रास्ते में ही सामान उतार जीएसटी में हो रही चोरी इंडो-नेपाल के सोनौली बार्डर पर जीएसटी में चोरी का खेल पुराना है। लेकिन इस बार बड़ी कार्रवाई के बाद कई चौंकाने वाले राज उजागर हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक व्यापारी नेपाल सामान भेजने के नाम पर सोनौली तक बुकिंग कराते हैं। लेकिन रास्ते में ही उसको उतार दिया जाता है। सोनौली, नौतनवा व महराजगंज में विभिन्न सामानों का कारोबार करने वाले व्यापारी खुदरा बिल्टी की गाड़ियों में फर्जी बिल पर माल मंगाते हैं। हैरत वाली बात यह है कि आलू के नाम पर प्याज नेपाल भेज दी जा रही है। इसी तरह अन्य सामान के कारोबार में भी जीएसटी की चोरी कर देश को आर्थिक क्षति पहुंचाया जा रहा है। अब सीआईबी की कार्रवाई के बाद सोनौली से लेकर नौतनवा के सभी नेपाल सर्विस करने वाले ट्रांसपोर्टरों में खलबली मच गई है। व्यापारी फर्जी बिल के माल समान को ठिकाने लगाने में जुट गए हैं। रमेश चंद्र दूबे-ज्वाइंट कमिश्नर एसआईबी गोरखपुर ने बताया सोनौली में जीएसटी की प्रारम्भिक जांच में टैक्स चोरी का मामला बड़ा सामने आ रहा है। ट्रांसपोर्ट खुदरा व्यापारियों को लाभ पहुंचाने के लिए विशेष रूप से काम करता है। ई वे बिल में बड़ी अनिमियता पाई गई है। साथ ही व्यापारियों के ट्रांसपोर्ट में माल रखने पर आपत्ति जताई। 67 बिल्टी के सामान को सीज कर सभी व्यापारियों और ट्रांसपोर्ट को नोटिस भेजा गया है। सोमवार को अधिकारी पुन: गोदाम में पहुंच कर आगे की कार्यवाही करेंगे।