1. हिन्दी समाचार
  2. राजनीति
  3. सिद्धू ने प्रियंका गांधी से की मुलाकात, क्या सुलझेगा पंजाब कांग्रेस का विवाद?

सिद्धू ने प्रियंका गांधी से की मुलाकात, क्या सुलझेगा पंजाब कांग्रेस का विवाद?

पंजाब में कांग्रेस पार्टी की गुटाबाजी दिल्ली दरबार के चौखट पर पंहच चुकी है। सूबे में आगामी कुछ महीनों में ही होने वाले विधान सभा चुनाव के पहले पार्टी के दो बड़े नेताओं की आपसी जंग ने पार्टी आलाकमान के माथे पर पसीना ला दिया है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

नई दिल्ली: पंजाब में कांग्रेस पार्टी की गुटाबाजी दिल्ली दरबार के चौखट पर पंहच चुकी है। सूबे में आगामी कुछ महीनों में ही होने वाले विधान सभा चुनाव के पहले पार्टी के दो बड़े नेताओं की आपसी जंग ने पार्टी आलाकमान के माथे पर पसीना ला दिया है।  नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच सुलह करवाने के लिए पार्टी आलाकमान तक को बीच में आना पड़ा। नवजोत सिंह सिद्धू ने मुख्यमंत्री कैप्टन के खिलाफ मोर्च खोला हुआ है। इसी विवाद के बीच नवजोत सिंह सिद्धू ने बुधवार को कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात की। सिद्धू ने इस मुलाकात की तस्वीर अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर शेयर करते हुए लिखा,  ‘प्रियंका गांधी वाड्रा जी के साथ लंबी बैठक हुई।’

पढ़ें :- Punjab Breaking: सिद्धू के बाद चन्नी कैबिनेट से रजिया सुल्ताना ने दिया इस्तीफा, कांग्रेस को लगा झटका
Jai Ho India App Panchang

 

पढ़ें :- क्रिकेट के बाद कांग्रेस के कैप्टन का भी सिरदर्द बने सिद्धू, अचानक फैसलों से हर बार टीम को पहुंचाया नुकसान

 

वहीं बीते मंगलवार को खबर सामने आई थी कि नवजोत सिंह सिद्धू, राहुल गांधी से मुलाकात कर सकते हैं। हालांकि राहुल गांधी ने साफ कहा कि आज के लिए कोई बैठक निर्धारित नहीं है। उन्होंने कहा, “कोई मुलाकात नहीं।” हालांकि सिद्धू की ओर से अभी कोई बयान नहीं आया है।

पिछले हफ्ते पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़, वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल, सांसद प्रताप सिंह बाजवा और मनीष तिवारी ने राहुल गांधी से मुलाकात की थी और उन्हें राज्य कांग्रेस में बढ़ती अंदरूनी कलह के बाद की स्थिति से अवगत कराया था।

 

अब सवाल यही है कि क्या इस मुलाकात के बाद पंजाब कांग्रेस में चल रहा विवाद सुलझेगा? कुछ दिन पहले ही राज्य में पार्टी के अंदर बवाल को लेकर एक तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया था। इस समिति की तरफ से राज्य के सीएम अमरिंदर समेत सभी प्रमुख नेताओं के साथ लंबी चर्चा कर कांग्रेस आलाकमान को रिपोर्ट दी गई थी।

पढ़ें :- कैप्टन की गुगली के आगे सिद्धू हुए बोल्ड, नहीं मार पाए सेंचुरी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...