1. हिन्दी समाचार
  2. जांच की गति और बढ़ाने के संकेत, प्रदेशवासियों के लिए खुशखबरी

जांच की गति और बढ़ाने के संकेत, प्रदेशवासियों के लिए खुशखबरी

Signs To Increase Speed Of Investigation Good News For People

By आराधना शर्मा 
Updated Date

लखनऊ: कोरोना टेस्टिंग के मामले में उत्तर प्रदेश रोज अपने ही रिकार्ड तोड़ रहा है। दो मार्च को जब प्रदेश में पहला केस आया था, उस वक्त टेस्टिंग के लिए सेंपल बाहर भेजा जाता था और आज सूबे में ही रोजाना सवा लाख से ज्यादा सेंपल टेस्टिंग हो रही है। 10 लाख का आंकड़ा हफ्ते भर में छू ले रहे हैं।

पढ़ें :- बिहार चुनाव: जेडीयू में इस तरह से मिल रहा है टिकट, पहले चरण के प्रत्याशियों पर मंथन

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक प्रदेश ने गुरुवार को ही कुल कोरोना जांच का आंकड़ा 50 लाख पार किया था। ऐसा करने वाला वह देश का पहला राज्य बन गया है। शुक्रवार को महज चौबीस घंटे के भीतर ही यूपी में कुल जांच की संख्या 52 लाख से अधिक हो गई है। इससे पता चलता है यहां कितनी रफ्तार से कोरोना जांच की जा रही है।

उन्होंने बताया कि राज्य में पहला कोराना केस 02 मार्च को सामने आया था, तब नमूने राज्य के बाहर भेजे जाते थे। मार्च के अन्तिम सप्ताह से प्रदेश में कोरोना जांच शुरू हो पाई। दो महीने बाद 06 मई को राज्य ने कुल 01 लाख कोरोना जांच का आंकड़ा छुआ। इसके बाद जांच में तेजी लाई गई और अगले 16 दिन में 22 मई को 02 लाख जांच का लक्ष्य हासिल किया गया।

जांच में और तेजी लाने के बाद महज 25 दिन में 03 लाख टेस्ट और किए गए तथा 16 जून को कुल जांच की संख्या 05 लाख पहुंच गई। अगले 05 लाख टेस्ट 20 दिन में किए गए तथा 06 जुलाई को प्रदेश में कुल कोरोना टेस्टिंग की संख्या 10 लाख पर पहुंच गई। इसके बाद से गति लगातार बढ़ती गई। फिर 22 दिन में 28 जुलाई को 20 लाख का आंकड़ा हासिल किया गया। अगली 10 लाख कोराना जांच महज 12 दिनों में की गई और 09 अगस्त को प्रदेश में कुल कोरोना जांच की संख्या 30 लाख पहुंच गई।

पढ़ें :- चीन और पाक पर पीएम मोदी ने साधा निशाना, कहा-भारत दुनिया को अपना परिवार मानता है

इसके बाद अगले 10 दिनों में 10 लाख जांच का रिकार्ड बनाते हुए 19 अगस्त को कुल कोरोना नमूनों की जांच की संख्या 40 लाख पहुंच गई। इसके बाद अगले 10 लाख टेस्ट और भी कम मात्र 08 दिनों में किए गए और 27 अगस्त को 50 लाख का आंकड़ा पार कर लिया गया।

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि कोरोना टेस्टिंग में और तेजी लाई जाएगी। 13 नई लैब जल्द तैयार हो जाएंगी। इसके बाद दो लाख के आसपास रोजाना टेस्ट करने लग जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...