पाक में सिखों को जबरन बनाया जा रहा मुसलमान, भारत ने जताई कड़ी प्रतिक्रिया

sikh

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के खैबर-पख्तूंख्वा क्षेत्र में सिखों के जबरन धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है। पाकिस्तान के हंगू जिले के सिख समुदायों का आरोप है कि वहां की स्थानीय सरकारी अधिकारी उन्हें जबरन अपना धर्म बदलने का दबाव डाल रही है। इस घटना के बाद भारत सरकार भी हरकत में आई है और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि वे जल्द ही इस मामले को लेकर पाकिस्तान सरकार से एक उच्च स्तरीय बातचीत करेगी।

पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह के ट्वीट करने के बाद मामला गर्मा गया है। कैप्टन ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को पाकिस्तान सरकार से बात करने को कहा है। ऐसी खबरों का संज्ञान लेते हुए सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया, ‘भारत यह मुद्दा पाकिस्तान सरकार के समक्ष शीर्ष स्तर पर उठाएगा।’ पाकिस्तान के कुछ अखबारों और न्यूज चैनलों की रिपोर्ट में कहा गया है कि खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के हंगू जिले के असिस्टेंट कमिश्नर (तहसील) ताल याकूब खान कथित तौर पर सिखों को जबरन इस्लाम कबूल करने के लिए मजबूर कर रहे हैं।

{ यह भी पढ़ें:- शहीद सैनिक औरंगजेब की मौत से पहले का VIDEO आया सामने, आतंकियों ने पूछे थे ये सवाल }

रिपोर्ट के साथ भारतीय उच्चायोग को टैग करते हुए सुषमा ने ट्वीट किया, ‘‘हम पाकिस्तान सरकार के शीर्षस्थ स्तर पर इस मुद्दे को उठाएंगे।’’ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सिख समुदाय ने हांगू के उपायुक्त शाहिद महमूद के समक्ष एक शिकायत दाखिल करते हुए आरोप लगाया कि ताल तहसील के सहायक आयुक्त याकूब खान सिखों को कथित तौर पर जबरन इस्लाम कबूल करा रहे हैं।

{ यह भी पढ़ें:- J&K: ईद की नमाज के बाद सुरक्षा बलों पर पथराव, दिखाए ISIS और PAK के झंडे }

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के खैबर-पख्तूंख्वा क्षेत्र में सिखों के जबरन धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है। पाकिस्तान के हंगू जिले के सिख समुदायों का आरोप है कि वहां की स्थानीय सरकारी अधिकारी उन्हें जबरन अपना धर्म बदलने का दबाव डाल रही है। इस घटना के बाद भारत सरकार भी हरकत में आई है और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि वे जल्द ही इस मामले को लेकर पाकिस्तान सरकार से एक उच्च स्तरीय बातचीत करेगी। पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट…
Loading...