हो गई सिंगल हड्‌डी ब्रेक तो इन घरेलू उपायों से करें आसानी से ठीक…

Hadjod-compressor

लखनऊ: आज हम आपको एक ऐसे पौधे के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप हडि्डयों को जोड़ सकते हैं। आप सभी को बता दें कि इस पौधे का नाम हड़जोड़ है। दरअसल यह एक बेल होती है जो कि घर में आसानी से लग जाती है।

Single Heart Brake Is Done So Easily With These Home Remedies :

वहीं इस पौधे की मदद से कंपाउंड फ्रैक्चर ठीक नहीं किया जा सकता लेकिन सिंगल हड्‌डी ब्रेक को ठीक किया जा सकता है। आप सभी को बता दें कि इसके लिए पौधे की पत्तियां और स्टेम का यूज किया जाता है।

ऐसे करें उपयोग 

इस पौधे की पत्तियों को सूखाकर पीस लें। अब इसके बाद पत्तियों के बराबर उदड़ दाल भी मिलाकर पीस लें। अब गीला पेस्ट बना लें और बांस की लकड़ी की मदद से हड्‌डी को सीधी कर लें। अब इसके बाद कॉटन के कपड़े पर ये लेप लगाकर कपड़ा बांध दें और ऊपर से बांस की लकड़ी को कुशा के सहारे बांध दें।

आपको बता दें कि कुशा देसी घास होती है। ध्यान रहे हर तीसरे दिन इस लेप को चेंज करना है। इसी के साथ ही आपको इसकी पत्तियों के साथ छोटी पीपली, गेहूं का भुना हुआ आटा, अर्जुन की छाल सभी को इक्वल क्वांटिटी में लेकर बारीक पीस लें। वैसे अगर आपका वजन 60 किलो है तो वजन का 6 ग्राम चूर्ण को घी के साथ मिक्स कर लें और इसे खाकर हल्दी वाला दूध पी लें। ध्यान रहे कि आप दूध में शक्कर या हनी डाल लें।

यह है दूसरा उपाय

इसके लिए आप हड़जोड़ पौधे की पत्तियों का 2 छोटा चम्मच रस 1 चम्मच घी के मिक्स कर लें और फिर इसे खाकर 250ml दूध पी लें। दोनों ही उपाय में से कोई भी एक आपको 4 हफ्ते तक करना है. इससे आपको लाभ होगा।

लखनऊ: आज हम आपको एक ऐसे पौधे के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप हडि्डयों को जोड़ सकते हैं। आप सभी को बता दें कि इस पौधे का नाम हड़जोड़ है। दरअसल यह एक बेल होती है जो कि घर में आसानी से लग जाती है। वहीं इस पौधे की मदद से कंपाउंड फ्रैक्चर ठीक नहीं किया जा सकता लेकिन सिंगल हड्‌डी ब्रेक को ठीक किया जा सकता है। आप सभी को बता दें कि इसके लिए पौधे की पत्तियां और स्टेम का यूज किया जाता है।

ऐसे करें उपयोग 

इस पौधे की पत्तियों को सूखाकर पीस लें। अब इसके बाद पत्तियों के बराबर उदड़ दाल भी मिलाकर पीस लें। अब गीला पेस्ट बना लें और बांस की लकड़ी की मदद से हड्‌डी को सीधी कर लें। अब इसके बाद कॉटन के कपड़े पर ये लेप लगाकर कपड़ा बांध दें और ऊपर से बांस की लकड़ी को कुशा के सहारे बांध दें। आपको बता दें कि कुशा देसी घास होती है। ध्यान रहे हर तीसरे दिन इस लेप को चेंज करना है। इसी के साथ ही आपको इसकी पत्तियों के साथ छोटी पीपली, गेहूं का भुना हुआ आटा, अर्जुन की छाल सभी को इक्वल क्वांटिटी में लेकर बारीक पीस लें। वैसे अगर आपका वजन 60 किलो है तो वजन का 6 ग्राम चूर्ण को घी के साथ मिक्स कर लें और इसे खाकर हल्दी वाला दूध पी लें। ध्यान रहे कि आप दूध में शक्कर या हनी डाल लें।

यह है दूसरा उपाय

इसके लिए आप हड़जोड़ पौधे की पत्तियों का 2 छोटा चम्मच रस 1 चम्मच घी के मिक्स कर लें और फिर इसे खाकर 250ml दूध पी लें। दोनों ही उपाय में से कोई भी एक आपको 4 हफ्ते तक करना है. इससे आपको लाभ होगा।