बलात्कारी बाबा की रहस्यमयी सुरंगों का राज, कमरे से साध्वियों के हॉस्टल का खुफिया कनेक्शन!

सिरसा। डेरा सच्चा सौदा मुख्यालय में शनिवार को लगातार दूसरे दिन तलाशी के दौरान दो गोपनीय सुरंग और एक अवैध विस्फोटक फैक्टरी का पता चला है। तलाशी अभियान में हजारों की संख्या में सुरक्षामकर्मी और स्थानीय प्रशासन लगा हुआ है। डेरा परिसरों के आसपास कर्फ्यू लगा हुआ है। तलाशी के दौरान परिसर से एक अवैध फैक्टरी का पता चला है। डेरा के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है।

डेरा परिसर में दो खुफिया सुरंग का भी पता चला है। इनमें से सुरंग का एक छोड़ डेरा प्रमुख के रहने वाले कमरे की ओर खुलता है, वहीं दूसरा छोड़ उस हॉस्टल की ओर खुलता है जहां साध्वी रहा करती थीं। उन्होंने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। दूसरा सुरंग पांच किलोमीटर लंबा है और यह कीचर वाले रास्ते की ओर खुलता है। इस सुरंग को देखकर प्रतीत होता है कि यह गोपनीय रूप से बाहर भागने वाला सुरंग है।

{ यह भी पढ़ें:- आखिरकार पुलिस की सख्ती के आगे हनीप्रीत ने टेक दिये घुटने, उगले कई राज }

डेरा परिसरों को खाली कराने के लिए शुक्रवार से ही अभियान शुरू हो गया था। इस दौरान कुछ कंप्यूटर, लग्जरी एसयूवी और कुछ मुद्राएं भी जब्त की गईं। सूत्रों के मुताबिक, तलाशी टीमों को कई जूते भी मिले हैं। डिजाइनर कपड़े, रंग-बिरंगी टोपियां मिलीं।

तलाशी अभियान शुक्रवार सुबह कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था और कर्फ्यू के बीच शुरू हुआ। मीडिया को डेरा परिसरों से कुछ दूरी पर रोक दिया गया। अधिकारियों ने सिरसा जिले में शुक्रवार को 10 सितंबर तक के लिए इंटरनेट सेवा स्थगित कर दी है। पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने इस तलाशी अभियान के लिए जिला एवं सत्र न्यायाधीश ए.के.एस पवार को पूरी प्रक्रिया की निगरानी के लिए अदालत आयुक्त नियुक्त किया गया है और अब उन्हीं की निगरानी में तलाशी ली जा रही है।

{ यह भी पढ़ें:- हनीप्रीत एक नाम अनेक, जाने क्या है नाम का रहस्य... }

Loading...