दो नाबालिग सगी बहनों से आठ आरोपियों ने किया गैंगरेप

girl

नई दिल्ली। बिहार के सीतामढ़ी में सोनबरसा के कन्हौली थाना क्षेत्र के एक गांव में नाबालिग सगी बहनों के साथ सात युवकों ने गैंगरेप किया। गांव से सटे खेत में दोनों लड़कियों को ले जाकर हाथ-पांव बांध दरिंदों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया। शुक्रवार को दोनों पीड़िता की सदर अस्पताल में मेडिकल जांच कराई गई। उधर, एफआईआर के बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए सभी आठ आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

Sisters Raped By 8 Men In Sitamarhi Bihar :

एक पीड़िता ने पुलिस को बताया कि 19 जून की देर शाम करीब साढ़े आठ बजे रात को छोटी बहन के साथ दरवाजे पर टहल रही थी। इसी बीच पड़ोस की एक महिला ने पास में टहलने को कहा। तब हम तीनों सड़क पर टहलने गई। घर से थोड़ी दूर जाने पर टॉर्च की रौशनी दिखी, जिसपर हम दोनों बहनों ने वापस चलने की बात कहीं। इसके बाद साथ गई महिला हमलोगों को छोड़कर भागने लगी। जब तक हमलोग कुछ समझ पाते तब तक युवकों ने दोनों बहनों को पकड़ लिया।

पीड़ित बहनों ने बताया कि पिस्टल दिखाकर हमलोगों को जान से मारने की धमकी दी। फिर हमलोगों को खींचकर दूर ले गया। वहां सभी ने दुष्कर्म किया। नाबालिग ने पुलिस को बताया कि कमलेश कुमार, अनिल कुमार, सुजीत कुमार, नगेंद्र कुमार व उसका एक रिश्तेदार, राजू कुमार, परशुराम और गोविंदा कुमार पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। साथ ही उनलोगों ने किसी को जानकारी देने पर जान से मारने की धमकी भी दी।

सीतामढ़ी के एसपी अनिल कुमार ने बताया कि दोनों पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई है। पीड़िताओं के बयान पर महिला थाना में एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए सभी आठ आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

नई दिल्ली। बिहार के सीतामढ़ी में सोनबरसा के कन्हौली थाना क्षेत्र के एक गांव में नाबालिग सगी बहनों के साथ सात युवकों ने गैंगरेप किया। गांव से सटे खेत में दोनों लड़कियों को ले जाकर हाथ-पांव बांध दरिंदों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया। शुक्रवार को दोनों पीड़िता की सदर अस्पताल में मेडिकल जांच कराई गई। उधर, एफआईआर के बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए सभी आठ आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। एक पीड़िता ने पुलिस को बताया कि 19 जून की देर शाम करीब साढ़े आठ बजे रात को छोटी बहन के साथ दरवाजे पर टहल रही थी। इसी बीच पड़ोस की एक महिला ने पास में टहलने को कहा। तब हम तीनों सड़क पर टहलने गई। घर से थोड़ी दूर जाने पर टॉर्च की रौशनी दिखी, जिसपर हम दोनों बहनों ने वापस चलने की बात कहीं। इसके बाद साथ गई महिला हमलोगों को छोड़कर भागने लगी। जब तक हमलोग कुछ समझ पाते तब तक युवकों ने दोनों बहनों को पकड़ लिया। पीड़ित बहनों ने बताया कि पिस्टल दिखाकर हमलोगों को जान से मारने की धमकी दी। फिर हमलोगों को खींचकर दूर ले गया। वहां सभी ने दुष्कर्म किया। नाबालिग ने पुलिस को बताया कि कमलेश कुमार, अनिल कुमार, सुजीत कुमार, नगेंद्र कुमार व उसका एक रिश्तेदार, राजू कुमार, परशुराम और गोविंदा कुमार पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। साथ ही उनलोगों ने किसी को जानकारी देने पर जान से मारने की धमकी भी दी। सीतामढ़ी के एसपी अनिल कुमार ने बताया कि दोनों पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई है। पीड़िताओं के बयान पर महिला थाना में एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए सभी आठ आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।