भोपाल स्टेशन पर फुटओवर ब्रिज का स्लोप ढहा, 9 जख्मी, 3 की हालत गंभीर

pul
भोपाल स्टेशन पर फुटओवर ब्रिज का स्लोप ढहा, 9 जख्मी, 3 की हालत गंभीर

नई दिल्ली। भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 2 पर गुरुवार सुबह फुट ओवर ब्रिज का स्लोप ढह गया। इस हादसे की चपेट में आने से 9 लोग घायल हो गए। तीन यात्री की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायलों को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया है। रेलवे और प्रशासन फौरन राहत कार्य में जुट गया है। हादसे की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

Slope Of Footover Bridge Collapsed At Bhopal Station 9 Injured 3 In Critical Condition :

कैंटीन संचालक ने बताया कि कुछ यात्रि फुट ओवर ब्रिज के नीचे बैठे हुए थे और कुछ नीचे से गुजर रहे थे। उसी वक्त फुट ओवर ब्रिज का स्लोप टूटकर गिर गया। मध्य प्रदेश सरकार ने हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को 50-50 हजार और मामूली रूप से चोटिल लोगों को 10-10 रुपये आर्थिक मदद देने की घोषणा की है।

कमलनाथ सरकार में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि इस घटना की मजिस्ट्रेट जांच कराई जाएगी। उन्होंने रेलवे पर लोगों की जान से खेलने का अरोप लगाया। पीसी शर्मा ने कहा कि जो लोग बुलेट ट्रेन चलाने की बड़ी-बड़ी बातें करते हैं वे रेलवे के छोटे-मोटे पुलों की देखरेख नहीं कर सकते।

जबकि डीआरएम का कहना है कि इस मामले में जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है कि लापरवाही कहां बरती गई। रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी (PRO) आईए सिद्धकी ने कहा कि फुट ओवर ब्रिज का एक छोटा सा स्लैब गिरा है।

उन्होंने बताया कि इस घटना में 8 लोग घायल हैं। किसी को गंभीर चोटें नहीं आई हैं। इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है। हम घटना की जांच करेंगे और लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।

नई दिल्ली। भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 2 पर गुरुवार सुबह फुट ओवर ब्रिज का स्लोप ढह गया। इस हादसे की चपेट में आने से 9 लोग घायल हो गए। तीन यात्री की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायलों को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया है। रेलवे और प्रशासन फौरन राहत कार्य में जुट गया है। हादसे की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। कैंटीन संचालक ने बताया कि कुछ यात्रि फुट ओवर ब्रिज के नीचे बैठे हुए थे और कुछ नीचे से गुजर रहे थे। उसी वक्त फुट ओवर ब्रिज का स्लोप टूटकर गिर गया। मध्य प्रदेश सरकार ने हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को 50-50 हजार और मामूली रूप से चोटिल लोगों को 10-10 रुपये आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। कमलनाथ सरकार में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि इस घटना की मजिस्ट्रेट जांच कराई जाएगी। उन्होंने रेलवे पर लोगों की जान से खेलने का अरोप लगाया। पीसी शर्मा ने कहा कि जो लोग बुलेट ट्रेन चलाने की बड़ी-बड़ी बातें करते हैं वे रेलवे के छोटे-मोटे पुलों की देखरेख नहीं कर सकते। जबकि डीआरएम का कहना है कि इस मामले में जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है कि लापरवाही कहां बरती गई। रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी (PRO) आईए सिद्धकी ने कहा कि फुट ओवर ब्रिज का एक छोटा सा स्लैब गिरा है। उन्होंने बताया कि इस घटना में 8 लोग घायल हैं। किसी को गंभीर चोटें नहीं आई हैं। इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है। हम घटना की जांच करेंगे और लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।