सिर्फ एक वोटर के लिए चुनाव आयोग ने बनाया अस्थायी पोलिंग स्टेशन

e

ईटानगर। अरूणाचल प्रदेश में एक बोट के लिए चुनाव आयोग ने पोलिंग बूथ बनाया है। अरुणाचल प्रदेश के ह्यूलियांग विधानसभा के एक बूथ पर सिर्फ एक मतदाता है जो 11 अप्रैल को राज्य में होने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनाव के लिए वोट डालेंगी। पिछले लोकसभा चुनाव में इसी बूथ पर सिर्फ दो वोटरों ने वोट डाला था।

Smallest Polling Booth In India Have Only One Voter In Arunachal Pradesh :


अरुणाचल ईस्ट लोकसभा क्षेत्र में आने वाले इस बूथ के बारे में राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी ने आधिकारिक रूप से भी सूचना दी थी। उन्होंने कहा था कि मालोगाम विधानसभा क्षेत्र के एक बूथ पर केवल एक वोटर है। इसके लिए वहां एक अस्थायी पोलिंग स्टेशन निर्मित किया गया है। यह भारत का सबसे छोटा पोलिंग बूथ है।

मंगलवार को अरुणाचल प्रदेश बीजेपी ने भी ट्वीट कर इसी तथ्य का हवाला देते हुए एक-एक वोट के कीमती होने की बात कही है। बीजेपी ने लिखा है कि लोकतंत्र की शक्ति उसके वोटर में होती है। अरुणाचल के मालोगाम गांव में 45.ह्यूलियांग एलएसी में सिर्फ एक वोटर है और हर वोट गिना जाता है।

बता दें कि राज्य में आगामी चुनावों के लिए तकरीबन 7.94 लाख मतदाता 2 लोकसभा ओर 60 विधानसभा सीटों के लिए अपने मताधिकार प्रयोग करेंगे। भारत के इस सीमावर्ती पहाड़ी प्रदेश में कुल 2202 पोलिंग स्टेशन हैं।

अरुणाचल प्रदेश विधानसभा में तकरीबन 99.97 प्रतिशत वोटरों को निर्वाचन मतदाता पहचान पत्र उपलब्ध कराया जा चुका है। वहीं इस बार 11 पोलिंग बूथ केवल महिला वोटरों के लिए बनाए गए हैं। राज्य में 11 अप्रैल को पहले ही चरण में लोकसभा और विधानसभा चुनाव आयोजित कराए जाएंगे।

ईटानगर। अरूणाचल प्रदेश में एक बोट के लिए चुनाव आयोग ने पोलिंग बूथ बनाया है। अरुणाचल प्रदेश के ह्यूलियांग विधानसभा के एक बूथ पर सिर्फ एक मतदाता है जो 11 अप्रैल को राज्य में होने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनाव के लिए वोट डालेंगी। पिछले लोकसभा चुनाव में इसी बूथ पर सिर्फ दो वोटरों ने वोट डाला था।


अरुणाचल ईस्ट लोकसभा क्षेत्र में आने वाले इस बूथ के बारे में राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी ने आधिकारिक रूप से भी सूचना दी थी। उन्होंने कहा था कि मालोगाम विधानसभा क्षेत्र के एक बूथ पर केवल एक वोटर है। इसके लिए वहां एक अस्थायी पोलिंग स्टेशन निर्मित किया गया है। यह भारत का सबसे छोटा पोलिंग बूथ है।

मंगलवार को अरुणाचल प्रदेश बीजेपी ने भी ट्वीट कर इसी तथ्य का हवाला देते हुए एक-एक वोट के कीमती होने की बात कही है। बीजेपी ने लिखा है कि लोकतंत्र की शक्ति उसके वोटर में होती है। अरुणाचल के मालोगाम गांव में 45.ह्यूलियांग एलएसी में सिर्फ एक वोटर है और हर वोट गिना जाता है।

बता दें कि राज्य में आगामी चुनावों के लिए तकरीबन 7.94 लाख मतदाता 2 लोकसभा ओर 60 विधानसभा सीटों के लिए अपने मताधिकार प्रयोग करेंगे। भारत के इस सीमावर्ती पहाड़ी प्रदेश में कुल 2202 पोलिंग स्टेशन हैं।

अरुणाचल प्रदेश विधानसभा में तकरीबन 99.97 प्रतिशत वोटरों को निर्वाचन मतदाता पहचान पत्र उपलब्ध कराया जा चुका है। वहीं इस बार 11 पोलिंग बूथ केवल महिला वोटरों के लिए बनाए गए हैं। राज्य में 11 अप्रैल को पहले ही चरण में लोकसभा और विधानसभा चुनाव आयोजित कराए जाएंगे।