विधानसभा चुनाव 2017 : गुजरात में स्‍मृति ईरानी और हिमाचल में जेपी नड्डा मुख्‍यमंत्री बनने की रेस में

nadda-and-irani_650x400_81513737734

गुजरात और हिमाचल प्रदेश में बीजेपी की बहुमत की सरकार बनने के बाद अब दोनों ही राज्यों में मुख्यमंत्री को लेकर माथापच्ची जारी है. इसे लेकर बुधवार शाम बीजेपी संसदीय दल की बैठक होनी है, जहां पीएम मोदी समेत बीजेपी का पूरा थिंक टैंक इस पर चर्चा करेगा.  गुजरात में कम सीटें मिलने के बाद विजय रूपाणी के अलावा दूसरे कई और नामों पर भी चर्चा चल रही है, जिनमें पुरुषोत्तम रूपाला और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का नाम भी आगे रहा है.

वहीं हिमाचल में बीजेपी के मुख्यमंत्री उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल के हारने के बाद उनके सीएम बनने की उम्मीद धूमिल हो गई है. यहां भी जेपी नड्डा, जयराम ठाकुर समेत कई नामों पर चर्चा चल रही है. मंगलवार को हिमाचल के तीन जीते हुए विधायकों को दिल्ली भी बुलाया गया था.

{ यह भी पढ़ें:- पूर्व IG डीजी वंजारा का खुलासा- इशरत एनकाउंटर के बाद मोदी-शाह को गिरफ्तार करना चाहती थी CBI }

गुजरात विधानसभा चुनाव में विजय रुपाणी ने 25 हज़ार वोटों से जीत हासिल कर ली है लेकिन पिछली बार की 116 सीटों की तुलना में 99 सीटें ही मिलीं. ऐसे में सवाल है कि रुपाणी ही सीएम बनेंगे या फिर कोई और चेहरा होगा.

हालांकि राजनीतिक गलियारों में स्मृति ईरानी से लेकर पुरूषोत्तम रूपाला के नाम घूमने लगे हैं, मगर बीजेपी अभी अपने पत्ते नहीं खोलना चाहती है. राष्ट्रीय प्रवक्ता विजय सोनकर शास्त्री ने कहा कि हमारे पर्यवेक्षक अरुण जेटली और सरोज पांडे गुजरात जाएंगे वहां नेताओं से मिलेंगे फिर वो रिपोर्ट देंगे फिर संसदीय बोर्ड तय करेगा कि प्रदेश का सीएम कौन बनेगा.  वैसे जानकारों की राय में गुजरात के नतीजे वहां की पूरी टीम के लिए ख़तरे की घंटी हैं. राय ऐसी भी है कि अगर वहां नेतृत्व बदलना है तो इससे सही समय दूसरा नहीं होगा.

{ यह भी पढ़ें:- हिमाचल प्रदेश: छह सौ फिट नीचे खाई में गिरी बस, दस की मौत }

इस बीच तीन जीते हुए विधायकों, सेजल के जयराम ठाकुर, शिमला के सुरेश भारद्वाज और नाहन के राजीव बिंदल को आलाकमान ने दिल्ली बुलाया है. जब जयराम ठाकुर से पूछा गया कि सीएम उम्‍मीदवार के तौर पर आपका नाम भी चल रहा है? तो उन्‍होंने कहा कि मुझे कोई संदेश नहीं है और मैं स्वीकार करूंगा जो भी आदेश होगा. हिमाचल में मुख्यमंत्री चुनने के लिए पर्यवेक्षक बनाए गए निर्मला सीतारमन और नरेंद्र तोमर ने अमित शाह से मुलाकात की और इन पर विधायकों से बात कर आलाकमान को रिपोर्ट देने की ज़िम्मेदारी है.

गुजरात और हिमाचल प्रदेश में बीजेपी की बहुमत की सरकार बनने के बाद अब दोनों ही राज्यों में मुख्यमंत्री को लेकर माथापच्ची जारी है. इसे लेकर बुधवार शाम बीजेपी संसदीय दल की बैठक होनी है, जहां पीएम मोदी समेत बीजेपी का पूरा थिंक टैंक इस पर चर्चा करेगा.  गुजरात में कम सीटें मिलने के बाद विजय रूपाणी के अलावा दूसरे कई और नामों पर भी चर्चा चल रही है, जिनमें पुरुषोत्तम रूपाला और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का नाम भी आगे…
Loading...