पीएम नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार की ये फोटो देख भड़क गईं समृति ईरानी, सरेआम लगाई PTI की क्लास

Smriti Irani Slams Pti Once Again This Time For A Derogatory Tweet

केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी मल्होत्रा ने भारतीय न्यूज एजेंसी PTI को लताड़ लगाई है। आपको बता दें कि भारतीय न्यूज एजेंसी प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया (PTI) एशिया की सबसे बड़ी समाचार एजेंसी है। 18 जुलाई से केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्‍मृति ईरानी को सूचना प्रसारण मंत्रालय का अतिरिक्‍त प्रभार दिया गया है।

इससे पहले यह मंत्रालय एम वेंकैया नायडू के पास था। नायडू ने उपराष्‍ट्रपति का उम्‍मीदवार बनने के बाद अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया था। इस मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालने के बाद लगभग 15 के अंदर ही ये दूसरा मौका है जब स्मृति ईरानी ने PTI को सार्वजनिक तौर पर फटकार लगाई है। दरअसल हुआ ये कि पीटीआई ने एक खबर चलाई कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र से मांग की है कि प्रदेश की न्यायिक व्यवस्था को और दुरुस्त करने के लिए उन्हें अलग से फंड दिया जाए। इस खबर के साथ पीटीआई ने एक तस्वीर बी पोस्ट की। इस तस्वीर में पीएम नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार का मास्क पहने दो युवक एक दूसरे को राखी बांध रहे हैं।

पीएम मोदी की इस तस्वीर पर स्मृति ईरानी भड़क गईं। स्मृति ईरानी ने इस खबर को रिट्वीट करते हुए पीटीआई से पूछा कि क्या चुने गए प्रमुखों को इसी तरह से प्रोजेक्ट किया जाता है, क्या ये आपका ऑफिशियल स्टैंड है?

केंद्रीय मंत्री के इस ट्वीट को देख पीटीआई बी सकते में आ गया और अपनी सफाई देने लगा। पीटीआई ने अपनी सफाई देते हुए स्मृति ईरानी को ट्वीट किया कि जो तस्वीर लगाई गई है वो बिहार में जनता दल यूनाइटेड के कार्यकर्ताओं की है जो एक दूसरे को फ्रेंडशिप बैंड बांध रहे हैं।

इस ट्वीट पर स्मृति ईरानी का किसी तरह का रिप्लाई ना आता देख एक और ट्वीट किया। अपने इस ट्वीट में पीटीआई ने लिखा कि अगर इस तस्वीर से किसी की भी भावनाएं आहत हुई हों तो हम माफी मांगते हैं और अपनी इस तस्वीर को डिलीट करते हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले भी स्मृति ईरानी ने पीटीई को खरी खोटी सुनाई थी जब उसने चेन्नई एयरपोर्ट की तस्वीर को अहमदाबाद का बता कर पब्लिश कर दिया था। उस वक्त भी पीटीआई को सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी पड़ी थी और इस बार भी यही हुआ।