पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या में मिले सऊदी युवराज की संलिप्तता के ठोस सबूत

jamal khashogi
पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या में मिले सऊदी युवराज की संलिप्तता के ठोस सबूत

नई दिल्ली। सऊदी अरब में बीते वर्ष हुई पत्रकार जमाल खगोशी की हत्या के मामले वहां के युवराज के शामिल होने के पुख्ता सबूत मिले हैं। इस बात का दावा संयुक्त राष्ट्र की एक स्वतंत्र विशेषज्ञ की रिपोर्ट में किया गया है। विश्व निकाय की न्याय से इतर हत्या मामलों की विशेष प्रतिनिधि एग्नेस कल्लामार्ड ने कहा कि वह इस पर दृढ़ हैं कि ठोस सबूत है जिससे युवराज सहित सऊदी अरब के उच्चाधिकारियों की व्यक्तिगत जवाबदेही की आगे जांच जरूरी हो जाती है।

Solid Proof Of Saudi Kings Involvement In The Murder Of Journalist Jamal Khashogi :

संयुक्त राष्ट्र के अधिकार विशेषज्ञ का कहना है कि कुछ ऐसे विश्वसनीय सबूत मिले हैं जो सऊदी क्राउन प्रिंस को खशोगी की हत्या से जोड़ते हैं। जांच टीम के विशेषज्ञों के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र प्रमुख को खशोगी की हत्या पर अंतर्राष्ट्रीय जांच शुरू करनी चाहिए।

बता दें कि पत्रकार की हत्या के बाद सीआईए ने कहा था कि सऊदी राजकुमार मोहम्मद बिन सलमान ने ही खशोगी की हत्या का आदेश दिया था। जिसके सबूत भी उसके पास हैं। गौरतलब हो कि बीते साल अक्तूबर में उनकी इस्तांबुल स्थित सऊदी वाणिज्य दूतावास में खशोगी की हत्या कर दी गई थी।

नई दिल्ली। सऊदी अरब में बीते वर्ष हुई पत्रकार जमाल खगोशी की हत्या के मामले वहां के युवराज के शामिल होने के पुख्ता सबूत मिले हैं। इस बात का दावा संयुक्त राष्ट्र की एक स्वतंत्र विशेषज्ञ की रिपोर्ट में किया गया है। विश्व निकाय की न्याय से इतर हत्या मामलों की विशेष प्रतिनिधि एग्नेस कल्लामार्ड ने कहा कि वह इस पर दृढ़ हैं कि ठोस सबूत है जिससे युवराज सहित सऊदी अरब के उच्चाधिकारियों की व्यक्तिगत जवाबदेही की आगे जांच जरूरी हो जाती है। संयुक्त राष्ट्र के अधिकार विशेषज्ञ का कहना है कि कुछ ऐसे विश्वसनीय सबूत मिले हैं जो सऊदी क्राउन प्रिंस को खशोगी की हत्या से जोड़ते हैं। जांच टीम के विशेषज्ञों के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र प्रमुख को खशोगी की हत्या पर अंतर्राष्ट्रीय जांच शुरू करनी चाहिए। बता दें कि पत्रकार की हत्या के बाद सीआईए ने कहा था कि सऊदी राजकुमार मोहम्मद बिन सलमान ने ही खशोगी की हत्या का आदेश दिया था। जिसके सबूत भी उसके पास हैं। गौरतलब हो कि बीते साल अक्तूबर में उनकी इस्तांबुल स्थित सऊदी वाणिज्य दूतावास में खशोगी की हत्या कर दी गई थी।