1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. सोनिया गांधी बोली- गांधी जयंती से शुरू करेगी भारत जोड़ो यात्रा, ‘हम जीतेंगे’ यही हमारा संकल्प है

सोनिया गांधी बोली- गांधी जयंती से शुरू करेगी भारत जोड़ो यात्रा, ‘हम जीतेंगे’ यही हमारा संकल्प है

कांग्रेस के राजस्थान के उदयपुर में चल रहे नव संकल्प चिंतन शिविर को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने ऐलान किया कि पार्टी कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत की करेगी। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि हम 2 अक्टूबर से गांधी जयंती के दिन 'राष्ट्रीय कन्याकुमारी टू कश्मीर भारत जोड़ों यात्रा' शुरू करेंगे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस के राजस्थान के उदयपुर में चल रहे नव संकल्प चिंतन शिविर को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने ऐलान किया कि पार्टी कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत की करेगी। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि हम 2 अक्टूबर से गांधी जयंती के दिन ‘राष्ट्रीय कन्याकुमारी टू कश्मीर भारत जोड़ों यात्रा’ शुरू करेंगे।

पढ़ें :- PM मोदी ने दी एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस को बधाई, कहा-महाराष्ट्र के विकास पथ को और मजबूत करेंगे

उन्होंने कहा​ कि सभी युवा और सभी नेता इस यात्रा में हिस्सा लेंगे। अपने छोटे से संबोधन के अंत में सोनिया गांधी ने तीन बार जोर देकर कहा कि “हम जीतेंगे, हम जीतेंगे, हम जीतेंगे- यही हमारा संकल्प है। यही हमारा संकल्प है। सोनिया गांधी ने कहा कि इस सत्र के अंतिम दिन मुझे लगा कि मैंने अपने परिवार के साथ एक शाम बिताई है।

राजस्थान के उदयपुर में कांग्रेस के नव संकल्प शिविर आखिरी दिन रविवार को पार्टी के पूर्व अध्यक्ष व सांसद राहुल गांधी पार्टी के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए बीजेपी और आरएसएस पर बड़ा हमला बोला है। इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस में सबको बिना डरे बोलने की आजादी है, जबकि बीजेपी में ऐसा नहीं है। कांग्रेस पार्टी के डीएनए में सबको बोलने का अधिकार है।

राहुल ने उत्तराखंड के नेता यशपाल आर्य के हवाले से बीजेपी पर निशाना साधा। कहा कि यशपाल आर्य ने मुझे बताया कि एक दलित के रूप में उनके लिए पार्टी में कोई जगह नहीं थी। उन्हें बीजेपी में अपमानित किया गया था। उन्होंने कहा कि हम पर हर दिन हमला किया जाता है। क्योंकि हम अपनी पार्टी में बातचीत की अनुमति देते हैं। क्योंकि ये पार्टी, लोगों और नेताओं के बीच होती है।

उन्होंने कहा कि इस देश का कौन सा राजनीतिक दल इस प्रकार की बातचीत की अनुमति देगा? निश्चित तौर पर बीजेपी और आरएसएस ऐसा कभी नहीं होने देंगे।भारत राज्यों का एक संघ है, भारत के लोग संघ बनाने के लिए एक साथ आते हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि सरकार ने हिंदुस्तान के युवाओं के भविष्य को नष्ट कर दिया है। एक तरफ बेरोजगारी दूसरी तरफ महंगाई, यूक्रेन में युद्ध हुआ है आने वाले समय में मुद्रा स्फ़ीति पर इसका असर पड़ेगा।

राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी, जीएसटी लाकर मोदी सरकार ने देश को बड़ी चोट दी है। एक तरफ देश में बेरोजगारी तो दूसरी तरफ महंगाई है। इससे निपटना जरूरी है। हमें अपने को भी देखने की जरूरत है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि हमारी जिम्मेदारी विचारधारा को बचाने की है। हमें जनता के पास जाना पड़ेगा। राहुल गांधी ने कहा कि हमें बिना सोचे जनता के बीच जाकर बैठ जाना चाहिए जो उनकी समस्या है उसे समझना चाहिए, हमारा जनता के साथ जो कनेक्शन था उस कनेक्शन को फिर से बनाना पड़ेगा। जनता जानती है कि कांग्रेस पार्टी ही देश को आगे ले जा सकती है।

पढ़ें :- Maharashtra Crisis Live : महाराष्ट्र में नई सरकार को लेकर हलचल तेज, फडणवीस के घर बैठक शुरू

राहुल गांधी ने कहा कि हमें बिना सोचे जनता के बीच जाकर बैठ जाना चाहिए जो उनकी समस्या है। उसे समझना चाहिए, हमारा जनता के साथ जो कनेक्शन था उस कनेक्शन को फिर से बनाना पड़ेगा। जनता जानती है कि कांग्रेस पार्टी ही देश को आगे ले जा सकती है।

कांग्रेस पार्टी ने निर्णय लिया है कि अक्टूबर महीने में पूरी कांग्रेस पार्टी जनता के बीच जाएगी और यात्रा करेगी। जनता के साथ जो रिश्ता कांग्रेस का था उसे फिर से पूरा करेगी। ये शॉर्टकट से नहीं होने वाला है और ये काम पसीना बहाकर ही किया जा सकता है।

राहुल गांधी ने अपने संबोधन में पंजाब को लेकर भी चिंता जतायी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में आंतरिक बातचीत की अनुमति है। भाजपा और आरएसएस में ऐसी बात नहीं है लेकिन यही कारण है कि कांग्रेस की आलोचना अधिक होती है।

 

 

पढ़ें :- Udaipur Murder : कन्हैया लाल नृशंस हत्याकांड का असली खलनायक है नाजिम ? लेटर से हुआ खुलासा
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...