सोनू निगम का मुंडन करने वाले हाकिम ने 10 लाख पर ठोंका दावा

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल के मौलवी सैयद साह अतेफ अली अल कादरी ने नमाज के लिए लाउडस्पीकर का विरोध करने वाले गायक सोनू निगम को गांजा करने के लिए 10 लाख का ईनाम देने का फतवा जारी किया था। मौलवी के फतवे के मद्देनजर सोनू निगम ने आलिम हकीम से अपना मुंडन करवा कर मीडिया के सामने अपना पक्ष रखा। जिसके बाद सोनू निगम को गंजा करने वाले हकीम ने मौलवी से मिलने वाले ईनाम पर अपना दावा ठोंका है।




आपको बता दें कि सोनू निगम ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक के बाद एक चार ट्वीट किए थे। पहले ट्वीट में उन्होंने कहा था- ईश्वर सभी पर कृपा करे, मैं मुसलमान नहीं हूं और मुझे अजान सुनकर जागना पड़ा, भारत में कब ये जबरन धार्मिकता खत्म होंगी।



सोनू निगम के ट्वीट के बाद देशभर से तरह तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आईं हैं। किसी ने सोनू निगम को धार्मिक सद्भाव की नसीहत दी है तो किसी ने उनके पक्ष में धार्मिक कार्यक्रमों के लिए होने वाले लाउडस्पीकरों के बेहिसाब प्रयोग को सीमित किए जाने की सलाह दी है।




फिलहाल यह कहना मुश्किल है कि इस विवाद से दशकों पुराने मंदिर और मस्जिद पर प्रयोग होने वाले लाउडस्पीकरों पर कोई रोक लगेगी। लेकिन काफी हद तक लंबे समय से सुर्खियों से दूर रहे सोनू निगम को थोड़ी सी मीडिया फुटेज जरूर मिल गई है।