1. हिन्दी समाचार
  2. सपा—बसपा गठबंधन के टूटने का संकेत, मायावती बोलीं, नहीं मिला यादवों का वोट, उपचुनाव में बसपा 11 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

सपा—बसपा गठबंधन के टूटने का संकेत, मायावती बोलीं, नहीं मिला यादवों का वोट, उपचुनाव में बसपा 11 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

Sp Bsp Gathbandhan Mayawati Said We Did Not Get Any Benefit

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। लोकसभा चुनाव में विपरीत नतीजे आने के बाद सपा—बसपा में मंथन का दौर जारी है। इसके साथ ही गठबंधन टूटने के संकेत भी मिलने लगे हैं। मायावती ने बैठक में कहा कि गठबंधन से उन्हें कोई फायदा नहीं मिला और न ही यादवों के वोट मिले। सपा के लोगों ने कई जगहों पर गठबंधन के खिलाफ काम किया। मायावती का कहना है कि मुस्लिमों ने उनका पूरा साथ दिया है।

पढ़ें :- ऑस्ट्रेलिया से जीत के बाद विराट कोहली ने बताया किस खिलाड़ी की वजह से मैच जीते

मायावती आज लोकसभा चुनाव में विपरीत नतीजे आने के बाद बैठक कर रहीं हैं। उन्होंनें कहा कि यादवों के वोट उन्हें नहीं मिले हैं। अगर वोट मिलते तो यादव परिवार के लोग चुनाव नहीं हारते। समाजवादी पार्टी के लोगों ने गठबंधन के खिलाफ काम किया। साथ ही मायावती ने कहा कि, सभी 11 विधानसभा सीटों पर बसपा उप चुनाव लड़ेगी। मायावती के इस ऐलान के बाद सपा और बसपा के गठबंधन टूटने के संकेत मिल गए हैं।

वहीं मायावती ने मुस्लिमों पर भरोसा जताना शुरू कर दिया है, जिसको लेकर उन्होंने यूपी में संगठन को चार हिस्सों में बांट कर तीन जगहों पर मुस्लिम नेताओं को काम दे दिया। मुनकाद अली, नौशाद और शम्सुद्दीन राइनी को नई ज़िम्मेदारी दी है। उम्मीदवारों से पैसे लेने के आरोप पर मायावती ने शम्सुद्दीन राइनी को फटकार भी लगाई।

बता दें कि लोकसभा में खराब नतीजों के बाद मायावती ने कई राज्यों के प्रभारियों को हटा दिया है। जिनमें उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, राजस्थान, गुजरात, उड़ीसा शामिल हैं। इसके साथ ही दिल्ली और मध्य प्रदेश के प्रदेश अध्यक्षों को भी हटाया गया है।

पढ़ें :- मनी लॉन्ड्रिंग केस : भगोड़े विजय माल्या पर शिकंजा, 14 करोड़ की प्रॉपर्टी ईडी ने की जब्त

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...