1. हिन्दी समाचार
  2. यूपी में सपा-बसपा गठबंधन पर लगी मुहर, हो रही साझा प्रेस कांन्फ्रेंस

यूपी में सपा-बसपा गठबंधन पर लगी मुहर, हो रही साझा प्रेस कांन्फ्रेंस

Sp Bsp Press Conference At Hotel Taz Lucknow After Alliance

By आशीष यादव 
Updated Date

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव लखनऊ में सपा-बसपा गठबंधन पर साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं। इस कार्यक्रम में दोनों ही पार्टियों के दिग्गज नेता शामिल हो रहे है। अखिलेश यादव ने इस दौरान कहा कि महागठबंधन लोकसभा चुनाव में भारी जीत दर्ज करेगा। वहीं उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा के बीच गठबंधन की घोषणा की संभावना की पृष्ठभूमि में कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि समान विचार वाले सभी दलों का उद्देश्य देश से ‘कुशासन’ और तानाशाही को खत्म करना है। लेकिन सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य में उसकी किसी भी तरह उपेक्षा करना राजनीतिक रूप से ‘खतरनाक भूल’ होगी।

पढ़ें :- Tractor Rally: किसानों पर लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले छोड़ने पर बोली तापसी, कहा- देश के हालात

मायावती और अखिलेश की पार्टी के बीच हो रही दोस्ती के केंद्र में मुस्लिम वोट बैंक है। लोकसभा चुनाव के दौरान इस वोट बैंक में दोनों ही दल बिखराव नहीं चाहते। इस वोटबैंक को फिलहाल जीत की कुंजी माना जा रहा है। सपा और बसपा में 26 साल के लंबे समय बाद दोस्ती होने जा रही है। मुस्लिम वोट बैंक जब भी जिस तरफ गया, दोनों में से उसी दल ने जीत हासिल की है।

अभी तक दोनों दलों द्वारा मुस्लिमों को साधने के लिए तमाम प्रयास किए जाते रहे हैं। उनका प्रयास है कि लोकसभा चुनाव में यह मुस्लिम वोट बैंक एकजुट रहे, जिसमें कोई बिखराव ना हो और उसके साथ ही उन्हें दलित, पिछड़ों और अति पिछड़ों का भी साथ मिले, जिससे वह भाजपा को हरा सकें।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...