सपा कार्यकर्ताओं की मांग, आजम खान समेत अन्य नेताओं पर दर्ज फर्जी मुकदमे वापस हों

moradabad-sp-leader
सपा कार्यकर्ताओं की मांग, आजम खान समेत अन्य नेताओं पर दर्ज फर्जी मुकदमे वापस हों

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश के रामपुर जनपद में सपा नेताओं के खिलाफ दर्ज मुकदमे के बाद सियासी पारा चढ़ा हुआ है। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता मुकदमे को फर्जी करार देते हुए मुकदमा समाप्त करने की मांग कर रहे हैं। सपा सांसद आजम खान और मुरादाबाद सांसद डॉ एस. टी. हसन के खिलाफ दर्ज हुए मुकदमे को लेकर आज सपा प्रतिनिधि ने आईजी रेंज से मुलाकात की और रामपुर पुलिस पर प्रदेश सरकार के इशारे पर एकतरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया। रामपुर और मुरादाबाद के सपा नेताओं द्वारा आईजी रेंज से मुलाकात कर मुकदमा वापस लेने की मांग की साथ ही फर्जी मुकदमा दर्ज करने पर रामपुर पुलिस पर कार्रवाई की अपील की गई।

Sp Leader Azam Khan Farzi Mukadama :

रामपुर भाजपा नेताओं की शिकायत के आधार पर रामपुर सिविल लाइन में सपा नेता आजम खान, डॉ एसटी हसन, रामपुर के विधायक अब्दुल्ला आजम और सपा नेताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। मुकदमा दर्ज होने के बाद समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं में आक्रोश है सपा नेताओं के खिलाफ दर्ज मुकदमे वापस लेने की मांग को लेकर आज सपा के प्रतिनिधि मंडल ने आईजी रेंज मुरादाबाद से मुलाकात की और रामपुर पुलिस पर पक्षपात कार्रवाई करने का आरोप लगाया।

सपा नेताओं के मुताबिक सांसदों और नेताओं पर दर्ज मुकदमे पूरी तरह फर्जी है और पुलिस ने नेताओं के इशारे पर यह कार्रवाई की है। आईजी रेंज को ज्ञापन देने के साथ ही सपा नेताओं ने कहा कि रामपुर पुलिस की कार्यवाही से जनपद के माहौल खराब हो रहे हैं और लोकसभा चुनाव से पहले ही पुलिस लगातार सपा नेता आजम खां और स्थानीय नेताओं को निशाना बना रही है प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने सवाल उठाया कि मुरादाबाद सांसद डॉ एसटी हसन पर जो मुकदमा दर्ज किया गया है। वह मुरादाबाद में दिए गए भाषण से संबंधित बताया गया है लेकिन मुकदमा रामपुर में दर्ज किया गया है। सपा नेताओं ने पुलिस अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की और मुकदमे वापस ना होने पर जल्द ही सड़कों पर उतरने का ऐलान किया हैं।

रिपोर्ट- रूपक त्यागी

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश के रामपुर जनपद में सपा नेताओं के खिलाफ दर्ज मुकदमे के बाद सियासी पारा चढ़ा हुआ है। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता मुकदमे को फर्जी करार देते हुए मुकदमा समाप्त करने की मांग कर रहे हैं। सपा सांसद आजम खान और मुरादाबाद सांसद डॉ एस. टी. हसन के खिलाफ दर्ज हुए मुकदमे को लेकर आज सपा प्रतिनिधि ने आईजी रेंज से मुलाकात की और रामपुर पुलिस पर प्रदेश सरकार के इशारे पर एकतरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया। रामपुर और मुरादाबाद के सपा नेताओं द्वारा आईजी रेंज से मुलाकात कर मुकदमा वापस लेने की मांग की साथ ही फर्जी मुकदमा दर्ज करने पर रामपुर पुलिस पर कार्रवाई की अपील की गई। रामपुर भाजपा नेताओं की शिकायत के आधार पर रामपुर सिविल लाइन में सपा नेता आजम खान, डॉ एसटी हसन, रामपुर के विधायक अब्दुल्ला आजम और सपा नेताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। मुकदमा दर्ज होने के बाद समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं में आक्रोश है सपा नेताओं के खिलाफ दर्ज मुकदमे वापस लेने की मांग को लेकर आज सपा के प्रतिनिधि मंडल ने आईजी रेंज मुरादाबाद से मुलाकात की और रामपुर पुलिस पर पक्षपात कार्रवाई करने का आरोप लगाया। सपा नेताओं के मुताबिक सांसदों और नेताओं पर दर्ज मुकदमे पूरी तरह फर्जी है और पुलिस ने नेताओं के इशारे पर यह कार्रवाई की है। आईजी रेंज को ज्ञापन देने के साथ ही सपा नेताओं ने कहा कि रामपुर पुलिस की कार्यवाही से जनपद के माहौल खराब हो रहे हैं और लोकसभा चुनाव से पहले ही पुलिस लगातार सपा नेता आजम खां और स्थानीय नेताओं को निशाना बना रही है प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने सवाल उठाया कि मुरादाबाद सांसद डॉ एसटी हसन पर जो मुकदमा दर्ज किया गया है। वह मुरादाबाद में दिए गए भाषण से संबंधित बताया गया है लेकिन मुकदमा रामपुर में दर्ज किया गया है। सपा नेताओं ने पुलिस अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की और मुकदमे वापस ना होने पर जल्द ही सड़कों पर उतरने का ऐलान किया हैं। रिपोर्ट- रूपक त्यागी