1947 के बाद मुसलमानों को मिलने वाली सबसे बड़ी सजा है मॉब लिंचिंग : आजम खां

azam khan
1947 के बाद मुसलमानों को मिलने वाली सबसे बड़ी सजा है मॉब लिंचिंग : आजम खां

 रामपुर। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व रामपुर के सांसद आजम खां अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। इस बार उन्होंने भीड़ हिंसा को लेकर एक बयान दिया है, जिसके कारण वह सुर्खियों में बने हुए हैं। आजम खान ने मॉब लिंचिग की घटनाओं को लेकर कहा कि, यह 1947 के बाद मुसलमानों को मिलने वाली सबसे बड़ी सजा है।

Sp Mp Azam Khan Speaks On Mobs Lining :

उन्होंने कहा कि, मुस्लिम जहां भी जायेंगे उन्हें अब यह सहन करना ही पड़ेगा। अब जो होगा, उसे सहना होगा। उन्होंने कहा कि, हमारे पूर्वज पाकिस्तान क्यों नहीं गए? यह मौलाना आजाद, जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल और बापू से पूछें। इन्होंने मुसलमानों की सुरक्षा का वादा किया था। बता दें कि, देशभर में मॉब लिंचिंग को लेकर हंगामा मचा हुआ है।

देश के कई राज्यों में लोग मॉब लिंचिंग के ​शिकार हो रहे हैं। दो दिन पूर्व बिहार में तीन लोग मॉब लिंचिंग के शिकार हुए है। चोरी के शक में भीड़ ने पीट-पीटकर उनकी हत्या कर दी थी। इसके बाद बिहार की राजनीति गरम चल रही है। वहीं, ओवैसी ने भी संसद में मॉब लिंचिंग पर कानून बनाने की मांग की थी।

 रामपुर। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व रामपुर के सांसद आजम खां अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। इस बार उन्होंने भीड़ हिंसा को लेकर एक बयान दिया है, जिसके कारण वह सुर्खियों में बने हुए हैं। आजम खान ने मॉब लिंचिग की घटनाओं को लेकर कहा कि, यह 1947 के बाद मुसलमानों को मिलने वाली सबसे बड़ी सजा है। उन्होंने कहा कि, मुस्लिम जहां भी जायेंगे उन्हें अब यह सहन करना ही पड़ेगा। अब जो होगा, उसे सहना होगा। उन्होंने कहा कि, हमारे पूर्वज पाकिस्तान क्यों नहीं गए? यह मौलाना आजाद, जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल और बापू से पूछें। इन्होंने मुसलमानों की सुरक्षा का वादा किया था। बता दें कि, देशभर में मॉब लिंचिंग को लेकर हंगामा मचा हुआ है। देश के कई राज्यों में लोग मॉब लिंचिंग के ​शिकार हो रहे हैं। दो दिन पूर्व बिहार में तीन लोग मॉब लिंचिंग के शिकार हुए है। चोरी के शक में भीड़ ने पीट-पीटकर उनकी हत्या कर दी थी। इसके बाद बिहार की राजनीति गरम चल रही है। वहीं, ओवैसी ने भी संसद में मॉब लिंचिंग पर कानून बनाने की मांग की थी।