विमान में सवार श्रीलंकाई खिलाड़ियों को भारत आने से रोका गया

कोलंबो। वनडे सीरीज के लिए भारत के लिए रवाना हो रहे नौ श्रीलंकाई खिलाड़ियों को देश के खेल मंत्री दयासिरी जयासेकेरा ने रोक दिया। ये खिलाड़ी सोमवार को भारत के लिए रवाना हो रहे थे। जयासेकेरा का कहना है कि उनकी अनुमति लिए बगैर ही खिलाड़ियों को सीरीज के लिए भारत भेजा जा रहा था। भारत के खिलाफ 10 दिसम्बर से श्रीलंका तीन वनडे मैचों की सीरीज खेलेगी।

देश के खेल कानून ने जयासेकेरा की बात को स्पष्ट किया है, जिसके तहत सभी श्रीलंकाई खिलाड़ियों को किसी भी सीरीज के लिए खेल मंत्री की अनुमति मिलनी जरूरी है।

{ यह भी पढ़ें:- INDVSL: श्रीलंका के सामने फिसड्डी साबित हुयी भारतीय टीम ,मिली 7 विकेट से शिकस्त }

‘ईएसपीएनक्रिकइन्फो’ को दिए एक बयान में जयासेकेरा ने कहा, “चयनकर्ताओं को एक दिसम्बर को ही टीम का चयन करना लेना चाहिए था, लेकिन वह कुछ खिलाड़ियों को शामिल करने के लिए किए जाने वाले फैसले के कारण अंतिम निर्णय पर नहीं पहुंच पाए। इस कारण, टीम के चयन की सूची मेरे पास देरी से पहुंची।”

‘डेली मिरर’ की रिपोर्ट के अनुसार, खेल मंत्री ने कहा, “मैं इतने कम समय में एक टीम को स्वीकृति कैसे दे सकता हूं? अगर आप खेल कानूनों को देखें, तो इसमें पता चलेगा कि टीम के चयन की सूची सीरीज से तीन सप्ताह पहले ही भेजी जानी जरूरी है। वह टीम की सूची खिलाड़ियों के दूसरे देश रवाना होने से केवल चार या पांच घंटे पहले भेज रहे हैं। इसलिए, मुझे खिलाड़ियों को रोकना पड़ा।”

{ यह भी पढ़ें:- INDVSL: भारतीय शेरों का अपनी जमीन पर तीसरा सबसे घटिया प्रदर्शन }

जयासेकेरा ने कहा, “मुझे खिलाड़ियों से कोई शिकायत नहीं है। थिसारा परेरा ने मुझे फोन किया था और कहा था कि हम विमान में बैठ चुके हैं, लेकिन मैंने उन्हें कहा कि यह सही नहीं है। अगर मैं उन्हें ऐसे में जाने की इजाजत देता हूं, तो मैं एक गलत उदाहरण पेश कर रहा हूं।”

कुछ माह पहले ही जयासेकेरा ने सभी खिलाड़ियों से आग्रह किया था कि वह टीम में शामिल होने से पहले अपना फिटनेस टेस्ट कराएंगे।

इस घटना के बाद खेल मंत्री ने श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों से बात की और वनडे टीम को अंतिम स्वीकृति दे दी।

{ यह भी पढ़ें:- INDvSL : 112 रन पर सिमटी टीम इंडिया, धोनी ने खेली जांबाज पारी }

Loading...