पाकिस्तान में श्रीलंकाई टीम को कमरे में किया गया था ‘कैद’, खुलासा से नाराज हुआ पीसीबी

pcb
पाकिस्तान में श्रीलंकाई टीम को कमरे में किया गया था 'कैद', खुलासा से नाराज हुआ पीसीबी

नई दिल्ली। आतंकी हमले के लगभग 10 साल बाद श्रीलंकाई टीम ने पाकिस्तान का दौरा किया। जहां कराची में तीन मैच की वन-डे श्रृंखला और लाहौर में तीन मैच की टी-20 श्रृंखला खेली गई। हालांकि सुरक्षा कारणों के चलते श्रीलंका टीम के 10 बड़े खिलाड़ी दौरे पर नहीं गए थे।

Sri Lankan Team In Pakistan Was Imprisoned In Room Pcb Unhappy Over Disclosure :

इस ऐतिहासिक दौरे से वापस लौटते ही श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड के मुखिया शम्मी सिल्वा ने एक सनसनीखेज खुलासा किया, जिससे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड नाराज हो गया है।  

कोलंबो लौटने पर सिल्वा ने मीडिया से कहा कि श्रीलंकाई क्रिकेटर तीन से चार दिन होटल में बंद रहकर उकता गए थे। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सूत्र ने कहा कि उन्होंने सिल्वा के बयान सुनने के बाद श्रीलंका क्रिकेट से नाराजगी जता दी है।

सूत्र ने कहा, ‘‘पीसीबी इन बयानों से काफी निराश और आहत है। श्रीलंकाई टीम को आला दर्जे की सुरक्षा उसके बोर्ड के कहने पर ही मुहैया कराई गई थी। हम उनके दौरे को सुविधाजनक भी बनाना चाहते थे।”

सूत्र ने कहा कि पीसीबी ने श्रीलंकाई अधिकारियों से कहा कि खिलाड़ियों को गोल्फ खेलने के लिये बाहर जाने और शापिंग के भी विकल्प दिये गए थे।
इसके अलावा उन्होंने आधिकारिक कार्यक्रमों और डिनर में भी शिरकत की।

नई दिल्ली। आतंकी हमले के लगभग 10 साल बाद श्रीलंकाई टीम ने पाकिस्तान का दौरा किया। जहां कराची में तीन मैच की वन-डे श्रृंखला और लाहौर में तीन मैच की टी-20 श्रृंखला खेली गई। हालांकि सुरक्षा कारणों के चलते श्रीलंका टीम के 10 बड़े खिलाड़ी दौरे पर नहीं गए थे। इस ऐतिहासिक दौरे से वापस लौटते ही श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड के मुखिया शम्मी सिल्वा ने एक सनसनीखेज खुलासा किया, जिससे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड नाराज हो गया है।   कोलंबो लौटने पर सिल्वा ने मीडिया से कहा कि श्रीलंकाई क्रिकेटर तीन से चार दिन होटल में बंद रहकर उकता गए थे। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सूत्र ने कहा कि उन्होंने सिल्वा के बयान सुनने के बाद श्रीलंका क्रिकेट से नाराजगी जता दी है। सूत्र ने कहा, ‘‘पीसीबी इन बयानों से काफी निराश और आहत है। श्रीलंकाई टीम को आला दर्जे की सुरक्षा उसके बोर्ड के कहने पर ही मुहैया कराई गई थी। हम उनके दौरे को सुविधाजनक भी बनाना चाहते थे।" सूत्र ने कहा कि पीसीबी ने श्रीलंकाई अधिकारियों से कहा कि खिलाड़ियों को गोल्फ खेलने के लिये बाहर जाने और शापिंग के भी विकल्प दिये गए थे। इसके अलावा उन्होंने आधिकारिक कार्यक्रमों और डिनर में भी शिरकत की।