मुंबई। दुबई में अभिनेत्री श्रीदेवी की मृत्यु हुए दो दिन बीत चुके हैं। पोस्टमार्टम के बाद हुई फारेंसिक जांच ने एक सामान्य सी मौत को एक गुत्थी बनाकर रख दिया है। कुछ घंटों पहले तक जिस घटना के लिए हार्ट अटैक जैसे स्वास्थ्य कारण को आधार माना जा रहा था, उसे फारेंसिक विशेषज्ञों ने नकार दिया है। मौत का सही कारण बाथटब में डूबने के रूप में सामने आया है, जिसे खून मिली एल्कोहल की मात्रा ने कई बड़े सवालों से घेर कर खड़ा कर दिया है।

Sridevi Death Case Is Similar To Sunanda Pushkar Death Mistry :

श्रीदेवी के मौत का मामला 17 जनवरी 2014 को हुई सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले की तरह नजर आ रहा है। सुनंदा पुष्कर भी संदिग्ध परिस्थितियों में दिल्ली के चाणक्यपुरी इलाके के लीला होटल के एक आलीशान कमरे में मृत मिलीं थीं। प्रथम दृष्टया यह मामला आत्महत्या के रूप में सामने आया था, लेकिन बाद में सुनंदा पुष्कर के सांसद पति शशि थरूर के कथित विवाहेत्तर प्रेम प्रसंग से जोड़कर पूरे मामले को मर्डर मिस्ट्री के रूप में देखा गया। सुनंदा पुष्कर के शव का पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी कुछ पहलू ऐसे सामने आए थे जिनके बाद उनकी मौत को अप्राकृतिक करार दिया गया।

सुनंदा पुष्कर की मौत को उस समय सुसाइड केस की जगह मर्डर मिस्ट्री कहा जाने लगा जब उनकी मौत के लिए दवाओं के ओवरडोज और एल्कोहल या फिर किसी विशेष प्रकार के जहर के प्रयोग को कारण के रूप में देखा गया। पूरे मामले के न्यायिक जांच के आदेश हुए और इस बीच छह महीने बाद पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर ने राजनीतिक दबाव में रिपोर्ट बदलने का खुलासा कर दिया।

इस घटना क्रम में नौ महीने बाद दिल्ली पुलिस ने उस समय सुनंदा पुष्कर की मौत की गुत्थी को और उलझा दिया। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर के बयान के बाद बिसरा परीक्षण करवाया गया। जिसमें मृत्यु का कारण जहर को ठहराया गया था। दिल्ली पुलिस ने 10 अक्टूबर 2014 को बिसरा परीक्षण के साथ सुनंदा पुष्कर का इलाज करने वाले एक डॉक्टर और शशि थरूर के घर काम करने वाले नौकर द्वारा घरेलू झगड़े को लेकर दिए गए बयान के आधार पर हत्या का मामला दर्ज किया।

आज एकबार फिर यही कहानी दुबई पुलिस दोहराती नजर आ रही है। जिस तरह से दुबई पुलिस श्रीदेवी की मौत को एक मिस्ट्री के रूप में देख रही है उससे लगता है कि आने वाले समय में पति बोनी कपूर के लिए पेरशानी खड़ी हो सकती है।

तमाम अटकलों के बीच श्रीदेवी के शव को भारत लाने में देरी हो रही है। ऐसा माना जा रहा है कि बोनी कपूर के बयान और श्रीदेवी की मृत्यु के कारणों के बीच दुबई पुलिस को तालमेल बैठता नजर नहीं आ रहा है। जिस वजह से दुबई पुलिस ने श्रीदेवी का शव उनके परिजनों के सुपुर्द नहीं किया है।कानूनी जानकारों की माने तो श्रीदेवी की मौत की मिस्ट्री को सुलझाने में लगी दुबई पुलिस द्वारा आगामी 24 घंटों में की जाने वाली कार्रवाई बहुत अहम होगी।