स्टारडम ही बन गया दुश्मन, 1009 रन की पारी खेलने वाले प्रणव धनवाडे ने छोड़ा क्रिकेट!

pranav-dhanwade

Stadam Became Enemy 1009 Runs Of Pranav Dhanwade Playing The Left Cricket

मुंबई। क्रिकेट अनिश्चिताओं का खेल है, इस खेल में कब कौन सा खिलाड़ी फर्श से अर्श पर पहुंच जाए और फर्श से अर्श पर। इसका अनुमान नहीं लगाया जा सकता। यहां रिकार्ड बनते हैं टूटने के लिए। ऐसा कुछ भी नहीं जो इसमें नामुमकिन हो। हमने यहां फर्श से अर्श तक का जिक्र युवा क्रिकेटर प्रणव धनवाडे की लिया किया है। इस खिलाड़ी ने अपने मैराथन पारी के दम पर रातों रात वह स्टारडम बटोर लिया जिसका अनुमान नहीं लगाया जा सकता। प्रणव ने अपनी काबिलियत के दम पर क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का मन मोह लिया था लेकिन आज यह युवा खिलाड़ी खुद से स्टारडम के कारण घुट-घुट कर जी रहा है। जिस खेल ने उसे दुनिया भर में अलग पहचान दिलाई उसे ही वह छोड़ने जा रहा है।

दरअसल, पिछले साल अंडर-16 क्रिकेट में 1009 रनों की पारी खेलकर रातों रात सनसनी मचा देने वाले प्रणव धनवाडे ने क्रिकेट को छोड़ने का फैसला किया है। हो सकता है कि इस चौंकाने वाली खबर पर आपको भरोसा न हो, लेकिन ये सच है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अंडर-16 मैच की एक पारी में 1009 रन बनाने वाले इस बल्लेबाज ने खराब फॉर्म से परेशान होकर क्रिकेट खेलना बंद कर दिया है।

प्रणव के पिता एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर हैं। प्रणव ने जब ये मैराथन पारी खेली तो वह रातों रात क्रिकेट की दुनिया के सितारे बन गए थे. इसके बाद ही मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने उन्हें हर महीने 10 हजार रु. की स्कॉलरशिप देने का ऐलान भी किया था। लेकिन अब इस खिलाड़ी ने खेलने से इनकार कर दिया है। तब तक जब तक वह अपने पुराने लय में नहीं आ जाता।

मुंबई। क्रिकेट अनिश्चिताओं का खेल है, इस खेल में कब कौन सा खिलाड़ी फर्श से अर्श पर पहुंच जाए और फर्श से अर्श पर। इसका अनुमान नहीं लगाया जा सकता। यहां रिकार्ड बनते हैं टूटने के लिए। ऐसा कुछ भी नहीं जो इसमें नामुमकिन हो। हमने यहां फर्श से अर्श तक का जिक्र युवा क्रिकेटर प्रणव धनवाडे की लिया किया है। इस खिलाड़ी ने अपने मैराथन पारी के दम पर रातों रात वह स्टारडम बटोर लिया जिसका अनुमान नहीं लगाया…