1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. आत्मनिर्भर भारत की तरफ बढ़ रहे कदम, हथियारों के आयात में आई 33 फीसदी कमी

आत्मनिर्भर भारत की तरफ बढ़ रहे कदम, हथियारों के आयात में आई 33 फीसदी कमी

भारत में 2011-15 और 2016-20 के दौरान विदेशों से हथियारों के आयात में 33 फीसदी कमी आई है। यह खुलासा स्वीडन की राधानी स्टॉकहोम स्थित रक्षा थिंक टैंक सिपरी की रिपोर्ट से हुआ है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Steps Towards Self Reliant India 33 Reduction In Arms Imports

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आत्मनिर्भर भारत का सपना साकार होता दिख रहा है। दरअसल, भारत में 2011-15 और 2016-20 के दौरान विदेशों से हथियारों के आयात में 33 फीसदी कमी आई है। यह खुलासा स्वीडन की राधानी स्टॉकहोम स्थित रक्षा थिंक टैंक सिपरी की रिपोर्ट से हुआ है।

पढ़ें :- राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि योग स्वस्थ जीवन जीने की कला

इसमें यह बताया गया ​है कि देश की जटिल खरीद प्रक्रिया और रूसी हथियारों पर निर्भरता कम करने की कोशिशों के तहत भारतीय हथियार आयात में कमी आई है। इससे सबसे ज्यादा प्रभावित आपूर्तिकर्ता देश रूस और उसके बाद अमेरिका रहे हैं।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले पांच सालों में भारत ने सबसे ज्यादा रूस से हथियार खरीदे हैं लेकिन हथियारों के इस आयात में करीब 53 फीसदी की गिरावट आई है।

भारत अब रूस से पहले के 70 फीसदी की बजाय महज 49 फीसदी हथियार ही खरीद रहा है। इस मामले में भारत ने अमेरिका को भी बड़ा झटका दिया है। 2011-2015 के बीच अमेरिका भारत का दूसरा सबसे बड़ा हथियार निर्यातक देश था, मगर 2016-2020 के दौरान अमेरिका चौथे पायदान पर चला गया है।

 

पढ़ें :- WTC Final की ट्राफी टीम इंडिया के लिए उठाना है तय, ऐसे बनेगी दूसरी बार चैम्पियन !

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X