STF ने मुठभेड़ में मार गिराया इनामी बदमाश

police and stf
STF और पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया इनामी बदमाश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रविवार को एसटीएफ ने आजमगढ़ के इनामी कांट्रेक्‍ट किलर को मार गिराया। विभूतिखंड में एमिटी यूनिवर्सिटी के पास हुई मुठभेड़ में इनामी बदमाश सचिन पांडेय को गोली लगी। जिसके बाद उसे लोहिया अस्‍पताल लाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। बताया जा रहा है हत्या लूट रंगदारी वसूली के दर्जनों मामले दर्ज हैं। पुलिस ने जवाबी फायरिंग में उसका एनकाउंटर किया जिसमें उसकी मौत हो गई।

Stf Encountered Prize Crook In Lucknow :

दरअसल, सचिन पांडेय पर एक लाख रुपये का इनाम था। वो शार्प शूटर था किसी गैंग के लिए काम नहीं करता था। जिससे हत्‍या की सुपारी मिलती थी उसके लिए काम करता था। सचिन पर हत्या, लूट रंगदारी वसूली के दर्जनों मामले दर्ज थे। यहां तक कि यूपी से लेकर बिहार तक सचिन पांडे भाड़े पर करने हत्या करता था।

मिली सूचना के बाद एसटीएफ ने सचिन को एमिटी के पास धर-दबोचा। आत्मरक्षा के चलते उसने पुलिस पर गोली चला दी जिसके बाद हुई मुठभेड़ में उसे गोली लग गई। पुलिस सचिन को लोहिया अस्‍पताल लेकर गई जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रविवार को एसटीएफ ने आजमगढ़ के इनामी कांट्रेक्‍ट किलर को मार गिराया। विभूतिखंड में एमिटी यूनिवर्सिटी के पास हुई मुठभेड़ में इनामी बदमाश सचिन पांडेय को गोली लगी। जिसके बाद उसे लोहिया अस्‍पताल लाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। बताया जा रहा है हत्या लूट रंगदारी वसूली के दर्जनों मामले दर्ज हैं। पुलिस ने जवाबी फायरिंग में उसका एनकाउंटर किया जिसमें उसकी मौत हो गई। दरअसल, सचिन पांडेय पर एक लाख रुपये का इनाम था। वो शार्प शूटर था किसी गैंग के लिए काम नहीं करता था। जिससे हत्‍या की सुपारी मिलती थी उसके लिए काम करता था। सचिन पर हत्या, लूट रंगदारी वसूली के दर्जनों मामले दर्ज थे। यहां तक कि यूपी से लेकर बिहार तक सचिन पांडे भाड़े पर करने हत्या करता था। मिली सूचना के बाद एसटीएफ ने सचिन को एमिटी के पास धर-दबोचा। आत्मरक्षा के चलते उसने पुलिस पर गोली चला दी जिसके बाद हुई मुठभेड़ में उसे गोली लग गई। पुलिस सचिन को लोहिया अस्‍पताल लेकर गई जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।