1. हिन्दी समाचार
  2. बिज़नेस
  3. शेयर बाजार 28 जनवरी हाइलाइट्स: सेंसेक्स 76.71 अंक गिरकर 57,200 पर, निफ्टी 17,100 पर फिसला

शेयर बाजार 28 जनवरी हाइलाइट्स: सेंसेक्स 76.71 अंक गिरकर 57,200 पर, निफ्टी 17,100 पर फिसला

शेयर बाजार 28 जनवरी अपडेट: सेंसेक्स पैक में एनटीपीसी 3.93 फीसदी की तेजी के साथ सबसे ज्यादा चढ़ा। दूसरी ओर, भारती एयरटेल 0.24 प्रतिशत की गिरावट के साथ सबसे बड़ी हार थी।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

शुरुआती सत्र में मिली बढ़त के बावजूद बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स शुक्रवार को 76.71 अंक या 0.13 फीसदी की गिरावट के साथ 57,200.23 पर बंद हुआ इसी तरह निफ्टी 8.20 अंक यानी 0.048 फीसदी की गिरावट के साथ 17,101.95 पर बंद हुआ

पढ़ें :- शेयर बाजार 29 मार्च अपडेट: सेंसेक्स 200 अंक चढ़ा, निफ्टी 17,300 के करीब, मारुति सुजुकी, एचडीएफसी टॉप गेनर

सेंसेक्स पैक में एनटीपीसी 3.81 फीसदी की तेजी के साथ सबसे ज्यादा चढ़ा। दूसरी ओर, मारुति सुजुकी सबसे बड़ी हार थी क्योंकि इसमें 3.05 प्रतिशत की गिरावट आई थी।

27 जनवरी से अपडेट:

अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा मार्च से नीति सख्त होने के संकेत के बाद वैश्विक बिकवाली के साथ इक्विटी बेंचमार्क सेंसेक्स गुरुवार को 581 अंक टूट गया। 30 शेयरों वाला सूचकांक 581.21 अंक या 1.00 प्रतिशत की गिरावट के साथ 57,276.94 पर बंद हुआ। इसी तरह एनएसई निफ्टी 167.80 अंक या 0.97 फीसदी की गिरावट के साथ 17,110.15 पर बंद हुआ।

सेंसेक्स पैक में एचसीएल टेक 4 प्रतिशत से अधिक की गिरावट के साथ शीर्ष पर रहा, दूसरी ओर, एक्सिस बैंक, एसबीआई, मारुति और कोटक बैंक लाभ में रहे।

पढ़ें :- स्टॉक मार्केट मार्च 28 अपडेट्स: सेंसेक्स 300 अंक से अधिक गिरा, निफ्टी 17,000 पर कर रही कारोबार, बैंकिंग क्षेत्र प्रभावित

25 जनवरी से अपडेट

यूरोपीय शेयरों में समर्थन के रुख के बीच मारुति, एक्सिस बैंक और एसबीआई में मजबूत बढ़त से मंगलवार को इक्विटी बेंचमार्क सेंसेक्स ने अपने पांच सत्रों की हार की लकीर को तोड़ते हुए 367 अंक की छलांग लगाई।

बीएसई गेज 366.64 अंक या 0.64 प्रतिशत बढ़कर 57,858.15 पर बंद हुआ। इसी तरह एनएसई निफ्टी 128.85 अंक या 0.75 प्रतिशत बढ़कर 17,277.95 पर बंद हुआ।

सेंसेक्स पैक में मारुति लगभग 7 प्रतिशत की बढ़त के साथ शीर्ष पर रही, इसके बाद एक्सिस बैंक, एसबीआई, इंडसइंड बैंक, भारती एयरटेल और एनटीपीसी का स्थान रहा।

दूसरी ओर, विप्रो, बजाज फिनसर्व, एचडीएफसी जुड़वाँ और आरआईएल थे, दूसरी ओर, विप्रो, बजाज फिनसर्व, एचडीएफसी जुड़वाँ और आरआईएल पिछड़ गए थे।

पढ़ें :- शेयर बाजार 23 मार्च अपडेट: सेंसेक्स 200 अंक चढ़ा, निफ्टी 17,300 से ऊपर, एचडीएफसी बैंक शीर्ष लाभार्थियों में

24 जनवरी से अपडेट

भारत में COVID-19 मामलों में स्पाइक और यूक्रेन को लेकर पश्चिम और रूस के बीच तनाव के कारण सोमवार को घरेलू बेंचमार्क सूचकांकों में काफी गिरावट आई। 30-बीएसई सेंसेक्स 1,545.67 अंक या 2.62 प्रतिशत की गिरावट के साथ 57,491.51 पर बंद हुआ। इसी तरह एनएसई निफ्टी 468.05 अंक या 2.66 फीसदी की गिरावट के साथ 17,149.10 पर बंद हुआ।

बजाज फाइनेंस लगभग 6 प्रतिशत की गिरावट के साथ शीर्ष पर रहा, इसके बाद टाटा स्टील, बजाज फाइनेंस, विप्रो, टेक महिंद्रा, टाइटन, रिलायंस इंडस्ट्रीज और एचसीएल टेक का स्थान रहा।

भारत में ओमाइक्रोन वैरिएंट द्वारा संचालित COVID-19 मामलों में वृद्धि ने निवेशकों के बीच चिंता पैदा कर दी है। COVID-19 के अलावा, रूस और यूक्रेन के बीच तनाव भी एक और कारण है कि सोमवार को सुबह के कारोबार में शेयर बाजार में काफी गिरावट आई।

नए कोविड वेरिएंट के आगमन और संबंधित अनिश्चितताओं ने वैश्विक स्तर पर बाजारों और अर्थव्यवस्थाओं को किनारे पर रखा है। हमें उम्मीद है कि केंद्रीय बजट मौजूदा अस्थिर बाजारों में कुछ आत्मविश्वास और स्थिरता ला सकता है।

हम मानते हैं कि रोजगार सृजन और निवेश-संचालित विकास पर ध्यान देना सर्वोपरि होगा। हम देखते हैं कि परिसंपत्ति मुद्रीकरण और उच्च विनिवेश विकास परियोजनाओं को निधि देना जारी रखेंगे।

पढ़ें :- शेयर बाजार: सेंसेक्स 1,000 अंक से अधिक चढ़ा, निफ्टी 17,000 के करीब बैंकिंग शेयरों में तेजी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...