1. हिन्दी समाचार
  2. ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पत्थरबाजी: नागरिकता कानून पर बीजेपी, अकाली दल ने कांग्रेस को घेरा

ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पत्थरबाजी: नागरिकता कानून पर बीजेपी, अकाली दल ने कांग्रेस को घेरा

By शिव मौर्या 
Updated Date

Stoning At Nankana Sahib Gurdwara Bjp Akali Dal Encircles Congress On Citizenship Law

नई दिल्ली। सिखों के पवित्र स्थल ननकाना साबिह में पत्थरबाजी और सिखों पर हमले को लेकर भारत में राजनीति गरमा गई है। इस घटना ने बीजेपी को कांग्रेस पर पलटवार करने का मौका दे दिया है। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर बीजेपी और अकाली दल ने कांग्रेस पर हमला शुरू कर दिया है।

पढ़ें :- 14 अप्रैल 2021 का राशिफल: इन जातकों पर होगी भगवान श्रीगणेश की कृपा, जानिए अपनी राशि का हाल

बीजेपी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा है कि इस घटना से पता चलता है कि देश में नागरिकता संशोधन कानून की जरूरत है। वहीं, अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने भी कांग्रेस पर हमला बोला है। ननकाना साहिब में हुई पत्थरबाजी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों का उत्पीड़न एक वास्तविकता है। वहीं, पाकिस्तान में हुई इस घटना को लेकर भारत के सिख समुदाय में काफी आक्रो​श है।

इसको लेकर शनिवार दोपहर दिल्ली और जम्मू में प्रदर्शन हुआ। दिल्ली में इस हमले के विरोध में सिख समुदाय के लोक शनिवार दोपहर पोस्टर-बैनर के साथ सड़क पर उतरे हैं और पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। अकाली दल नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि सिख प्रदर्शनकारी मैमरैंडम लेकर हाई कमीशन को देने जा रहे हैं। उन्होंने इस घटना की निंदा की है। उन्होंने कहा कि सिख समुदाय किसी से डरने वाला नहीं है।

उन्होंने कहा कि ​सिखों को बीमारी का इलाज करना आता है। सिरसा ने कहा, ‘हम यहां बताने के लिए पहुंचे हैं कि हम किसी से डरने वाले नहीं हैं। हम अपनी जान देना जानते हैं और किसी की जान लेना भी जानते हैं। हम यह भी बताना चाहते हैं कि हमें अपनी तरफ आने वाले सांपों का सिर कुचलना आता है।’ मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी से भी माफी मांगने की मांग की है।

पढ़ें :- मुख्यमंत्री के दफ्तर के कई कर्मचारी कोरोना संक्रमित, सीएम योगी ने खुद को किया आइसोलेट

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...