तूफानी कहर में ताजमहल की मीनारे हुई ढ़ेर, टूट गया गुंबद

tajmahalतूफानी कहर, ताजमहल
तूफानी कहर में ताजमहल की मीनारे हुई ढ़ेर, टूट गया गुंबद

आगरा। एक तरफ जहां मौसम के बदलाव से गर्मी में थोड़ा राहत मिली है वहीं बुधवार शाम तूफानी हवाओं ने दुनिया के सातवें अजूबे ताज महल को अपनी चपेट में ले लिया। भारी बारिश और तूफानी हवाओं की वजह से ताजमहल परिसर के दक्षिण और रॉयल गेट्स की पत्थर की मीनारें टूट गईं। हालांकि, अभी तक किसी तरह के हताहत की सूचना नहीं मिली है।

मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार शाम करीब 7:30 बजे 130 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चल रही हवाओं ने मुख्य द्वार, जहां से ताजमहल का दीदार सबसे पहले होता है दरवाजा-ए-रौजा पर लगी एक 12 फुट की मीनार को गिरा दिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, 2016 में भी ताजमहल की मीनारें गिर गई थीं। हालांकि, इस बारे में भारतीय पुरातत्व विभाग के अधिकारियों से अभी तक कोई बात नहीं हो सकी।

{ यह भी पढ़ें:- आज रात कई प्रदेशों में आ सकता है तूफान, मौसम विभाग ने किया अलर्ट }

तूफान में शहर को और भी बहुत नुकसान हुआ है। कई जगह पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए। मथुरा में चार और बिजनौर में एक व्यक्ति की जान चली गई। जिले के कई हिस्सों में लगभग आधे घंटे तूफान ने उत्पात किया, जिसके बाद न्यूनतम तापमान गिरकर 22 पहुंच गया।

{ यह भी पढ़ें:- गृह मंत्रालय ने किया अलर्ट, 13 राज्यों में आ सकता है तूफान }

आगरा। एक तरफ जहां मौसम के बदलाव से गर्मी में थोड़ा राहत मिली है वहीं बुधवार शाम तूफानी हवाओं ने दुनिया के सातवें अजूबे ताज महल को अपनी चपेट में ले लिया। भारी बारिश और तूफानी हवाओं की वजह से ताजमहल परिसर के दक्षिण और रॉयल गेट्स की पत्थर की मीनारें टूट गईं। हालांकि, अभी तक किसी तरह के हताहत की सूचना नहीं मिली है। मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार शाम करीब 7:30 बजे 130 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से…
Loading...