चित्रगुप्त पूजा 2018: आज होगी कलम के आराध्य देव भगवान चित्रगुप्त की पूजा

chitragupt puja
चित्रगुप्त पूजा 2018: आज होगी कलम के आराध्य देव भगवान चित्रगुप्त की पूजा

पटना। आज कलम और दवात के पूज्य भगवान चित्रगुप्त पूजा पूरे देश में धूमधाम मनाई जा रही है। इसको लेकर पटना में पचास से अधिक जगहों पर भगवान चित्रगु्प्त की बड़ी—बड़ी प्रतिमाओं की स्थापना की गई है। गर्दनीबाग ठाकुरबाड़ी व आदि चित्रगुप्त मंदिर नौजरघाट में भव्य पूजा कार्यक्रम का आयोजना किया जा रहा है। मान्यता है कि इस अवसर पर सभी के द्वारा अपने आय-व्यय का पूरा ब्योरा भगवान चित्रगुप्त के समक्ष रखा जाएगा। पूर्जा अर्चना के करने के बाद अगले दिन मूर्तियों का विसर्जन किया जाता है।

Story On Chitrangupta Puja 2018 Pooja :

ज्योतिषी इंजीनियर प्रशांत कुमार के मुताबिक चित्रगु्प्त पूजा पर घर के बच्चे तक अपनी आय-व्यय का व्योरा भगवान को समर्पित करेंगे। पूजा के दौरान महिलाओं द्वारा गोधन कूटने के बाद पूजा में शामिल होती हैं।

अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के तत्वावधान में चित्रगुप्त भगवान की प्रतिमाओं का सामूहिक विसर्जन पूजन के अगले दिन होगा। शहर भर की प्रतिमाएं सहाय सदन बेली रोड पर जमा होंगी और फिर शोभायात्रा निकलेगी और पटनासिटी स्थित चित्रगुप्त मंदिर पहुंचेगी। यहां महाआरती के बाद चित्रगु्प्त घाट पर मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा।

पटना। आज कलम और दवात के पूज्य भगवान चित्रगुप्त पूजा पूरे देश में धूमधाम मनाई जा रही है। इसको लेकर पटना में पचास से अधिक जगहों पर भगवान चित्रगु्प्त की बड़ी—बड़ी प्रतिमाओं की स्थापना की गई है। गर्दनीबाग ठाकुरबाड़ी व आदि चित्रगुप्त मंदिर नौजरघाट में भव्य पूजा कार्यक्रम का आयोजना किया जा रहा है। मान्यता है कि इस अवसर पर सभी के द्वारा अपने आय-व्यय का पूरा ब्योरा भगवान चित्रगुप्त के समक्ष रखा जाएगा। पूर्जा अर्चना के करने के बाद अगले दिन मूर्तियों का विसर्जन किया जाता है। ज्योतिषी इंजीनियर प्रशांत कुमार के मुताबिक चित्रगु्प्त पूजा पर घर के बच्चे तक अपनी आय-व्यय का व्योरा भगवान को समर्पित करेंगे। पूजा के दौरान महिलाओं द्वारा गोधन कूटने के बाद पूजा में शामिल होती हैं। अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के तत्वावधान में चित्रगुप्त भगवान की प्रतिमाओं का सामूहिक विसर्जन पूजन के अगले दिन होगा। शहर भर की प्रतिमाएं सहाय सदन बेली रोड पर जमा होंगी और फिर शोभायात्रा निकलेगी और पटनासिटी स्थित चित्रगुप्त मंदिर पहुंचेगी। यहां महाआरती के बाद चित्रगु्प्त घाट पर मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा।