अजीब घटना: यहां गधों को भी हुई जेल, जमानत के बाद हुई रिहाई

news
हमें रोजाना कुछ ऐसी घटनाएं सुनने को मिलती रहती है कि उन पर विश्वास करना थोड़ा कठिन होता है। लेकिन क्या अपने कभी गधों और घोड़ों को जेल से छूटते हुए देखा है? यह घटना उत्तर प्रदेश के जालौन में घटी है। इस घटना के बारे में जिसने भी सुना उसे यकीन नहीं हुआ, लेकिन यह सच है। गधों को हुआ कारावास: यहां कारागार परिसर में लगाए गए पेड़ पौधों को चरने के जुर्म में दो घोड़ों और दो गधों…

हमें रोजाना कुछ ऐसी घटनाएं सुनने को मिलती रहती है कि उन पर विश्वास करना थोड़ा कठिन होता है। लेकिन क्या अपने कभी गधों और घोड़ों को जेल से छूटते हुए देखा है? यह घटना उत्तर प्रदेश के जालौन में घटी है। इस घटना के बारे में जिसने भी सुना उसे यकीन नहीं हुआ, लेकिन यह सच है।

गधों को हुआ कारावास:
यहां कारागार परिसर में लगाए गए पेड़ पौधों को चरने के जुर्म में दो घोड़ों और दो गधों को गिरफ्तार कर तीन दिन तक जेल में बंद रखा गया। जिला जेल के अधीक्षक ने कारागार परिसर में साज-सज्जा के लिये लगाये गये पेड़-पौधो को चरने को लेकर दो घोड़ों और दो गधों को तीन दिन तक जेल में बंद रखा।

{ यह भी पढ़ें:- मुर्गा कड़कनाथ बना दो राज्यों के विवाद का कारण }

मालिक ने करवाई रिहाई:
उनके मालिक के आने पर सोमवार शाम उन्हें छोड़ दिया गया। इस संबंध में जेल अधीक्षक तुलसी राम शर्मा ने दावा किया, ‘‘जेल के सौंदर्यीकरण के लिये कई तरह के पेड़-पौधे परिसर में लगाये गये हैं। लेकिन इन घोड़ों और गधों ने उन्हें नुकसान पहुंचाया, तो मैंने इन्हें जेल में बंद कर दिया।’’

{ यह भी पढ़ें:- 'भूत' पकड़ने में नाकाम दरोगा लाइन हाजिर, ये है पूरा मामला }

Loading...