फ्रेंडशिप डे पर 10वीं के छात्र ने दोस्तों में बांट दिए पापा के 46 लाख रुपए

फ्रेंडशिप डे पर 10वीं के छात्र ने दोस्तों में बांट दिए पापा के 46 लाख रुपए
फ्रेंडशिप डे पर 10वीं के छात्र ने दोस्तों में बांट दिए पापा के 46 लाख रुपए

नई दिल्ली। पिछले हफ्ते फ्रेंडशिप डे पर दोस्तों को तोहफे बांटने का एक अनोखा मामला मध्य प्रदेश में सामने आया है। मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में एक बिल्डर के 10वीं कक्षा में पढ़ने वाले बेटे ने अपने दोस्तों को 46 लाख रुपए बांट दिए। इसमें उसने एक दोस्त सबसे ज्यादा 15 लाख रुपए गिफ्ट के रूप में दिए जो कि मजबूरी करता है। जबकि उसका होमवर्क करने वाले क्लासमेट को उसने 3 लाख रुपए तोहफे में दिए। बिल्डर के बेटे ने अपने क्लास के हर किसी दोस्त को उपहार के तौर पर कुछ न कुछ गिफ्ट किया।

Students Gifted Car Smartpohone And Cash Of Worth 46 Lakh :

किसी को खाली हाथ नहीं छोड़ा। इसमें करीब 35 साथियों को स्मार्टफोन दिया तो कई दोस्तों को चांदी की चेन दिलाई। अब आप सोच रहे होंगे इतनी मोटी रकम बिल्डर के बेटे के हाथ लगी कैसे तो उसको भी जान लें। दरअसल बिल्डर ने पुलिस को बताया कि उसने हाल ही में हुए एक सेल से मिले 60 लाख रुपए अपने घर की आलमारी में रखे थे। लेकिन अचानक पैसे गायब हो गए। जिसके बाद वह पुलिस के पास पहुंचा, लेकिन शुरुआती जांच में चोरी या फिर लूट जैसा कुछ भी सामने नहीं आया।

पुलिस का कहना है कि बच्चे के पिता ने उन्हें सभी छात्रों की लिस्ट दी है जिन्हें उनके बच्चे ने पैसे दिए हैं। पुलिस उन बच्चों से संपर्क करने की कोशिश में लगी है। उसने जिस लड़के को 15 लाख रुपये दिए थे वह भी पैसे मिलने के बाद से ही गायब है। इसके अलावा जिन पांच बच्चों को उसने सबसे ज्यादा रुपये दिए थे पुलिस ने उनके अभिभावकों को तलब कर लिया है और पांच दिनों में पैसे लौटाने को कहा है। अभी तक 15 लाख रुपये बरामद कर लिए गए हैं।

नई दिल्ली। पिछले हफ्ते फ्रेंडशिप डे पर दोस्तों को तोहफे बांटने का एक अनोखा मामला मध्य प्रदेश में सामने आया है। मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में एक बिल्डर के 10वीं कक्षा में पढ़ने वाले बेटे ने अपने दोस्तों को 46 लाख रुपए बांट दिए। इसमें उसने एक दोस्त सबसे ज्यादा 15 लाख रुपए गिफ्ट के रूप में दिए जो कि मजबूरी करता है। जबकि उसका होमवर्क करने वाले क्लासमेट को उसने 3 लाख रुपए तोहफे में दिए। बिल्डर के बेटे ने अपने क्लास के हर किसी दोस्त को उपहार के तौर पर कुछ न कुछ गिफ्ट किया।किसी को खाली हाथ नहीं छोड़ा। इसमें करीब 35 साथियों को स्मार्टफोन दिया तो कई दोस्तों को चांदी की चेन दिलाई। अब आप सोच रहे होंगे इतनी मोटी रकम बिल्डर के बेटे के हाथ लगी कैसे तो उसको भी जान लें। दरअसल बिल्डर ने पुलिस को बताया कि उसने हाल ही में हुए एक सेल से मिले 60 लाख रुपए अपने घर की आलमारी में रखे थे। लेकिन अचानक पैसे गायब हो गए। जिसके बाद वह पुलिस के पास पहुंचा, लेकिन शुरुआती जांच में चोरी या फिर लूट जैसा कुछ भी सामने नहीं आया।पुलिस का कहना है कि बच्चे के पिता ने उन्हें सभी छात्रों की लिस्ट दी है जिन्हें उनके बच्चे ने पैसे दिए हैं। पुलिस उन बच्चों से संपर्क करने की कोशिश में लगी है। उसने जिस लड़के को 15 लाख रुपये दिए थे वह भी पैसे मिलने के बाद से ही गायब है। इसके अलावा जिन पांच बच्चों को उसने सबसे ज्यादा रुपये दिए थे पुलिस ने उनके अभिभावकों को तलब कर लिया है और पांच दिनों में पैसे लौटाने को कहा है। अभी तक 15 लाख रुपये बरामद कर लिए गए हैं।