PAK के पूर्व PM नवाज शरीफ पर छात्र ने फेंका जूता

PAK के पूर्व PM नवाज शरीफ पर छात्र ने फेंका जूता
PAK के पूर्व PM नवाज शरीफ पर छात्र ने फेंका जूता

लाहौर। पाकिस्तान में आम चुनाव होने वाले हैं, लेकिन इससे पहले लोगों का वहां के प्रमुख नेताओं के खिलाफ जमकर गुस्सा निकल रहा है। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर लाहौर में जूता फेंके जाने की घटना सामने आई है। दो दिनों के अंदर यह दूसरा मामला है, जब पाकिस्तान के किसी शीर्ष नेता के साथ ऐसी हरकत हुई हो। इससे पहले, शनिवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ के चेहरे पर एक शख्स ने स्याही पोत दी थी।

Students Throws Shoe On Former Pm Nawaz Sharif :

घटना के बाद आरोपी छात्र ने  नवाज शरीफ के खिलाफ नारे भी लगाए। इस दौरान उसने नवाज शरीफ को इस्लाम विरोधी बताया। खास बात यह है कि पूर्व पीएम पर जूता फेंकने की इस वारदात के पीछे जमात उद दावा का हाथ बताया जा रहा है। घटना के बाद सुरक्षाकर्मियों ने आरोपी छात्र और उसके एक साथी को हिरासत में लिया है। पुलिस ने जूता फेंकने वाले छात्र की पहचान अब्दुल गफूर के रूप में की है जो जामिया का पूर्व छात्र है। दूसरे छात्र की पहचान साजिद के रूप में हुई है। घटना के बाद मौके पर मौजूद भीड़ ने हमलावर की पिटाई कर दी, जिसकी वजह से उसे पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके अलावा पुलिस ने बताया है कि मामले में दो और संदिग्धों को गिरफ्तार किया है।

बता दें कि इससे पहले शनिवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ अपने गृह नहर सियालकोट में पीएमएल-एन के कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान उनके बगल में खड़े लंबी दाढ़ी वाले एक बुजुर्ग ने विदेश मंत्री के चेहरे पर स्याही पोत दी थी।

उस आदमी का कहना था कि आसिफ की पार्टी ने पैगंबर मोहम्मद के इस्लाम के अंतिम नबी होने की मान्यता को संविधान के माध्यम से बदलने की कोशिश की है, जिससे उसकी भावनाएं आहत हुई हैं। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने घटना के बाद संदिग्ध की पिटाई की और बाद में उसे पुलिस को सौंप दिया. हालांकि, आसिफ ने पुलिस से अपील की थी कि आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाए।

लाहौर। पाकिस्तान में आम चुनाव होने वाले हैं, लेकिन इससे पहले लोगों का वहां के प्रमुख नेताओं के खिलाफ जमकर गुस्सा निकल रहा है। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर लाहौर में जूता फेंके जाने की घटना सामने आई है। दो दिनों के अंदर यह दूसरा मामला है, जब पाकिस्तान के किसी शीर्ष नेता के साथ ऐसी हरकत हुई हो। इससे पहले, शनिवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ के चेहरे पर एक शख्स ने स्याही पोत दी थी।घटना के बाद आरोपी छात्र ने  नवाज शरीफ के खिलाफ नारे भी लगाए। इस दौरान उसने नवाज शरीफ को इस्लाम विरोधी बताया। खास बात यह है कि पूर्व पीएम पर जूता फेंकने की इस वारदात के पीछे जमात उद दावा का हाथ बताया जा रहा है। घटना के बाद सुरक्षाकर्मियों ने आरोपी छात्र और उसके एक साथी को हिरासत में लिया है। पुलिस ने जूता फेंकने वाले छात्र की पहचान अब्दुल गफूर के रूप में की है जो जामिया का पूर्व छात्र है। दूसरे छात्र की पहचान साजिद के रूप में हुई है। घटना के बाद मौके पर मौजूद भीड़ ने हमलावर की पिटाई कर दी, जिसकी वजह से उसे पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके अलावा पुलिस ने बताया है कि मामले में दो और संदिग्धों को गिरफ्तार किया है।बता दें कि इससे पहले शनिवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ अपने गृह नहर सियालकोट में पीएमएल-एन के कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान उनके बगल में खड़े लंबी दाढ़ी वाले एक बुजुर्ग ने विदेश मंत्री के चेहरे पर स्याही पोत दी थी।उस आदमी का कहना था कि आसिफ की पार्टी ने पैगंबर मोहम्मद के इस्लाम के अंतिम नबी होने की मान्यता को संविधान के माध्यम से बदलने की कोशिश की है, जिससे उसकी भावनाएं आहत हुई हैं। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने घटना के बाद संदिग्ध की पिटाई की और बाद में उसे पुलिस को सौंप दिया. हालांकि, आसिफ ने पुलिस से अपील की थी कि आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाए।