1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. स्टडी में खुलासा : गाय के पेट में प्लास्टिक पचा लेने की होती है ताकत

स्टडी में खुलासा : गाय के पेट में प्लास्टिक पचा लेने की होती है ताकत

ऑस्ट्रिया के वैज्ञानिकों ने एक रिसर्च में कूड़े के निस्तारण का एक पर्यावरण हितैषी तरीका तलाशा है। शोध में दावा किया गया है कि गाय के पेट में मिलने वाला एक बैक्टीरिया प्लास्टिक को भी पचाने में सक्षम है। यह बैक्टीरिया गाय के पेट के रूमेन में पाया जाता है, जोकि पाचन तंत्र का एक हिस्सा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। ऑस्ट्रिया के वैज्ञानिकों ने एक रिसर्च में कूड़े के निस्तारण का एक पर्यावरण हितैषी तरीका तलाशा है। शोध में दावा किया गया है कि गाय के पेट में मिलने वाला एक बैक्टीरिया प्लास्टिक को भी पचाने में सक्षम है। यह बैक्टीरिया गाय के पेट के रूमेन में पाया जाता है, जोकि पाचन तंत्र का एक हिस्सा है।

पढ़ें :- दुनिया से हमें धर्मनिरपेक्षता, समाजवाद या लोकतंत्र सीखने की जरूरत नहीं, यह हमारे खून में है : मोहन भागवत

वैज्ञानिकों ने बताया कि इस तरह के बैक्टीरिया उपयोगी हो सकते हैं, क्योंकि गाय के भोजन में नेचुरल प्लांट पालीएस्टर मौजूद होता है। इस स्टडी रिपोर्ट को बायोइंजीनियरिंग और बायोटेक्नॉलजी के फ्रंटियर्स में पब्लिश किया गया है। वियना में यूनिवर्सिटी ऑफ नेचुरल रिसोर्सेज एंड लाइफ साइंसेज की डॉ. डोरिस रिबिटेस्च ने कहा, ”एक बड़ा माइक्रोबायल समूह रूमेन रेटिक्यूलम में मौजूद है, जोकि जानवरों में भोजन पचाने का काम करता है। इसलिए हमें लगता है कि पॉलिएस्टर हाइड्रोलिसिस के लिए कुछ बायोलॉजिकल एक्टिविटी का इस्तेमाल किया जा सकता है।”

दूसरे शब्दों में कहें तो ये सूक्ष्मजीव इस तरह के कुछ सामग्रियों के टुकड़े कर सकते हैं, इसलिए वैज्ञानिकों को लगता है कि ये प्लास्टिक को भी बांट सकते हैं। रिबिटेस्च और इनकी साथियों ने तीन तरह के पालीएस्टर पर विचार किया। पॉलीथीन टेरिफ्थेलैट जिसे आमतौर पर PET के रूप में जाना जाता है, सिंथेटिक पॉलीमर के रूप में जाना जाता है, जिसका इस्तेमाल टेक्सटाइल और पैकेजिंग में होता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...