1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. बेरोज़गारी के कारण आत्महत्या बढ़ीं, राहुल गांधी बोले-केंद्र सरकार इस आपातकाल के लिए ज़िम्मेदार

बेरोज़गारी के कारण आत्महत्या बढ़ीं, राहुल गांधी बोले-केंद्र सरकार इस आपातकाल के लिए ज़िम्मेदार

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बेरोजगारी को लेकर केंद्र की मोदी सरकार  (Modi government) पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि, केंद्र सरकार इस बेरोज़गारी आपातकाल के लिए ज़िम्मेदार है। दरअसल, बुधवार को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय (Union Minister of State for Home Nityanand Rai) ने राज्यसभा (Rajya Sabha) में एनसीआरबी के आंकड़े को पेश किया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बेरोजगारी को लेकर केंद्र की मोदी सरकार  (Modi government) पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि, केंद्र सरकार इस बेरोज़गारी आपातकाल के लिए ज़िम्मेदार है। दरअसल, बुधवार को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय (Union Minister of State for Home Nityanand Rai) ने राज्यसभा (Rajya Sabha) में एनसीआरबी के आंकड़े को पेश किया। इस आंकड़े के मुताबिक, उन्होंने बताया कि देश में बेरोजागारी के कारण कई लोगों ने अपनी जान दी।

पढ़ें :- राज बब्बर का मोदी पर तंज, बोले- रुपया डॉलर के मुक़ाबले लुढ़ककर 79 पहुंचना बड़ी घटना या महाराष्ट्र में नई सरकार बनना?

उन्होंने राज्यसभा (Rajya Sabha) में कहा कि इन सालों में दिवालिया होने और कर्ज में डूब जाने के कारण अपनी जान दे देने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है। इसी को लेकर राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा है कि, ‘बेरोज़गारी के कारण आत्महत्या बढ़ीं और बेरोज़गारी किसके कारण बढ़ी? केंद्र सरकार इस बेरोज़गारी आपातकाल के लिए ज़िम्मेदार है।’

इसके साथ ही राहुल (Rahul Gandhi) ने एक आर्टिकल भी शेयर किया है। इसमें कहा गया है कि, साल 2018 से लेकर साल 2020 के बीच बेरोजगारी और कर्ज की वजह से 25,000 से ज्यादा लोगों ने आत्महत्या कर ली।

बता दें कि, राज्यसभा (Rajya Sabha) में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बुधवार को कहा कि साल 2020 में रोजगार ना मिलने के कारण 3,548 लोगों ने अपना जान दे दी। वहीं साल 2018 से 2020 के बीच 16,000 से ज्यादा लोगों ने दिवालियाया कर्ज में होने के कारण आत्महत्या कर ली। जबकि इसी सालों में बेरोजगारी के कारण 9,140 लोगों ने अपनी जान ले ली।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...