जमीनी विवाद के चलते रची गई थी भारत भूषण की हत्या की साजिश

सुल्तानपुर: करीब डेढ़ माह बाद भारत भूषण पेट्रोल पम्प मालिक की हत्या का आज खुलासा हो गया। पेट्रोल पम्प मालिक भारत भूषण अपने घर से जा रहे थे पेटोल पम्प पर तभी घात लगाए बैठे यह शार्प शूटर दिनदहाड़े बाइक सवार बदमाशों ने गोली मार कर मौके से फरार हो गए थे जिसकी तलाश सुल्तानपुर पुलिस कर रही थी। जिनको आज सुल्तानपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।




दरअसल ये मामला नगर कोतवाली के पयागीपुर का है, जहां के रहने वाले भारत भूषण मिश्रा रोज की तरह वह लखनऊ वाराणसी हाइवे पर स्थित अपने अपेट्रोल पंप पर 8 फ़रवरी 2017 को जा रहे थे। पेट्रोल पम्प से थोड़ी दूर पहले ही घात लगाये बैठे नकाबपोश बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी और बदमाश मौके से फरार हो गए जिसकी तलाश लगातार पुलिस कर रही थी, मौका भी मिला पुलिस को लेकिन अहम बात तो यह रही कि किसी भी बदमाश को अभी हिरासत में लेना उचित नहीं होगा जब तक इन लोगो के खिलाफ पुख्ते साबूत नहीं मिल जाते और किसी ने सही कहा है कि इंतज़ार का फल हमेशा अच्छा होता है और पुलिस अपने तलाश की कड़ी को आज मजबूत कर इन पांचो शातिरों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है ।

इस खुलासे से इलाके से आये सभी ग्रामीणों ने ख़ुशी से फूले नहीं समाये और जिला प्रशासन सहित पुलिस की और पुलिस अधीक्षक के जिंदाबाद के नारे भी लगाए। वही आज सुल्तानपुर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि 8 फ़रवरी को जब सुबह अपने घर से दुकान पर भारत भूषण मिश्रा जा रहे थे तभी उनकी हत्या कर दी गई थी, आज उसी का खुलासा किया गया है जिसमे २ सूटर पहले ही जेल में है एक गाजीपुर में और एक जौनपुर में, इस हत्या में शामिल और प्लानिंग में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।




इस हत्या की वजह जमीनी और पैसे का उधार का कारण और पैसे को लेकर वर्चस्व की लड़ाई को लेकर हत्या हुई है। इनके ही पटीदारों ने ही हत्या कराई है। मुख्य बात तो ये है जो पेट्रोल पम्प के पीछे जमीन है वह करोड़ो की है, उसका जो सिविल कोर्ट में विवाद चल रहा है वो उनका मुख्य कारण रहा। इस हत्या मे रायबरेली के रहने वाले मंत्री के भाई का भी रहा हाथ।

सुल्तानपुर से बृजेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट

Loading...