सुंजवां आर्मी कैंप हमला: 5 जवान शहीद, चार आतंकी ढ़ेर, आॅपरेशन जारी

Sujwan-attack
सुंजवां आर्मी कैंप हमला: 5 जवान शहीद, चार आतंकी ढ़ेर, आॅपरेशन जारी

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के सुंंजवां आर्मी कैम्प पर हुए आतंकी हमले में भारतीय सेना के पांच जवानों के शहीद होने की पुष्टि हो चुकी है, जबकि आर्मी कैंप के भीतर घुसे चारों आतंकवादियों को मार गिराया गया है। आतंकवादियों के कब्जे वाले क्षेत्र में सर्च आॅपरेशन चलाया जा रहा है। पूरी घटना पर आर्मी चीफ विपिन रावत, केन्द्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण और केन्द्रीय गृहमंत्रालय ने अपनी नजर बनाई हुई है।

मिली जानकारी के मुताबिक इस हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन ने ली है। इस हमले का मास्टर माइंड रउफ असगर बताया जा रहा है।​ जिसे जैश चीफ मौलाना असूद अजहर के भाई के रूप में जाना जाता है। इस हमले के बाद जम्मू कश्मीर में मौजूद सेना के अन्य बेस कैंपों की सुरक्षा और ज्यादा मजबूत की गई है।

{ यह भी पढ़ें:- कश्मीर : महबूबा मुफ्ती ने केन्द्र को दी धमकी, PDP तोड़ने की कोशिश की तो भुगतने होंगे नतीजे }

शनिवार की सुबह जम्मू स्थित सुंजवां आर्मी बेस कैंप की दीवार फांद कर दाखिल हुए चार आतंकवादियों ने सुबह तड़के करीब पांच बजे फायरिंग शुरू की थी। आतंकवादियों ने कैंप के भीतर बने सेनाकर्मियों के आवास को अपना टारगेट बनाया था। आतंकवादियों को सेना के जवानों की ओर से जवाब मिलने पर उन्होंने उन्हीं क्वार्टस में छिपने का काम किया। बताया जा रहा है कि सेना ने आतंकवादियों के कब्जे वाले 28 क्वार्टरों में से अधिकांश को खाली करवा लिया है।

बताया जा रहा है कि सुंजवां आर्मी कैंप में करीब 3000 सैनिक मौजूद रहते हैं। यहां सैन्य​कर्मियों के परिवारों के निवास के लिए आवास और बच्चों की पढ़ाई के लिए स्कूल आदि का भी प्रबंध है। इस कैंप के विषय में पूरी जानकारी करने के बाद ही इस आतंकी घटना को अंजाम दिया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- कश्मीर : घाटी में सेना ने मार गिराए तीन आतंकी }

पाकिस्तान को जवाब देने की योजना में भारतीय सेना—

सुंजवां कैंप पर हुए आतंकी हमले से भारतीय सेना जबर्दस्त गुस्से में हैं। केन्द्रीय गृह मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय के संपर्क में रहते हुए, सेना की ओर से इस हमले का जवाब देने की तैयारी शुरू की जाने लगी है। भारतीय सेना इस हमले को 2016 में उरी आर्मी बेस कैंप पर हुए हमले के तर्ज पर ही देख रही है।

आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद—

{ यह भी पढ़ें:- जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ बड़े ऑपरेशन की तैयारी, NSG कमांडो तैनात }

आर्मी की ओर से मिली जानकारी में बताया गया है कि मारे गए तीनों आतंकवादियों के पास से भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद हुआ है। आतंकी जिस मनसूबे के साथ बेस कैंप में दाखिल हुए उसका अंदाजा उनके पास से मिले हथियार और अन्य विस्फोटकों से लगाया जा सकता है।

 

 

 

{ यह भी पढ़ें:- कश्मीर में पत्थरबाजी करने के लिए यूपी से बुलाये जाते थे लड़के }

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के सुंंजवां आर्मी कैम्प पर हुए आतंकी हमले में भारतीय सेना के पांच जवानों के शहीद होने की पुष्टि हो चुकी है, जबकि आर्मी कैंप के भीतर घुसे चारों आतंकवादियों को मार गिराया गया है। आतंकवादियों के कब्जे वाले क्षेत्र में सर्च आॅपरेशन चलाया जा रहा है। पूरी घटना पर आर्मी चीफ विपिन रावत, केन्द्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण और केन्द्रीय गृहमंत्रालय ने अपनी नजर बनाई हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक इस हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद…
Loading...