1. हिन्दी समाचार
  2. बॉलीवुड
  3. सुपरस्टार रजनीकांत को जल्द नवाजा जाएगा दादा साहेब फाल्के अवार्ड से, प्रकाश जावड़ेकर ने किया बड़ा ऐलान

सुपरस्टार रजनीकांत को जल्द नवाजा जाएगा दादा साहेब फाल्के अवार्ड से, प्रकाश जावड़ेकर ने किया बड़ा ऐलान

साउथ सुपरस्टार रजनीकान्त अपनी जबरदस्त अदाकारी से लाखों दिलों पर राज करतें हैं। इसी के चलते आज केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को एक बड़ा ऐलान किया है। आपको बता दें सुपरस्टार रजनीकांत को दादा साहेब फाल्के अवार्ड से नवाजा जाएगा। 

By आराधना शर्मा 
Updated Date

Superstar Rajinikanth Will Soon Be Conferred With Dadasaheb Phalke Award Prakash Javadekar Made A Big Announcement

नई दिल्ली: साउथ सुपरस्टार रजनीकान्त अपनी जबरदस्त अदाकारी से लाखों दिलों पर राज करतें हैं। इसी के चलते आज केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को एक बड़ा ऐलान किया है। आपको बता दें सुपरस्टार रजनीकांत को दादा साहेब फाल्के अवार्ड से नवाजा जाएगा।

पढ़ें :- पुलिस सेवा विभाग में होगी किन्नरों की भर्ती, इस सरकार ने किया बड़ा ऐलान... निकाली भर्ती

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा- हमें खुशी है कि देश के सभी भागों से फिल्मकार, अभिनेता, अभिनेत्री, गायक,संगीतकार सभी लोगों को समय समय पर दादा साहब फाल्के अवॉर्ड मिला है।  आज इस साल का दादा साहब फाल्के अवॉर्ड महान नायक रजनीकांत को घोषित करते हुए हमें बहुत खुशी है।

रजनीकांत बीते 5 दशक से सिनेमा की दुनिया पर राज कर रहे हैं और लोगों का मनोरंजन कर रहे हैं। यही कारण है कि इस बार दादा साहेब फाल्के की ज्यूरी ने रजनीकांत को ये अवॉर्ड देने का फैसला लिया गया है।’

5 लोगों की ज्यूरी ने किया फैसला

”5 लोगों की ज्यूरी से एकमत फैसला” ‘इस साल ये सिलेक्शन ज्यूरी ने किया है। इस ज्यूरी में आशा भोंसले, मोहनलाल, विश्वजीत चटर्जी, शंकर महादेवन और सुभाष घई इन पांचों ज्यूरी ने बैठक करके एक राय से महानायक रजनीकांत को दादा साहब फाल्के अवॉर्ड देने की सिफारिश की।’ प्रकाश जावड़ेकर ने आगे कहा, ‘रजनीकांत ने अपनी प्रतिभा, मेहनत और लगन से ये स्थान लोगों के दिल में जमा लिया है। ये उनका सही गौरव है। दादा साहब फाल्के अवॉर्ड इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि दादा साहब फाल्के ने पहला सिनेमा 1913 में राजा हरिशच्रंद बनाया था। तो उस राजा हरिशचंद्र सिनेमा के बाद ये पहले चित्रपट महर्षि कहलाने लगे और दादा साहब फाल्के की मृत्यु के बाद ये अवॉर्ड उनके नाम से रखा गया और आजतक 50 बार ये अवॉर्ड दिया गया है.’

पढ़ें :- Sonu Sood ने ट्वीट कर IAS की तैयारी करने वालों के लिए किया बड़ा ऐलान, कहा- हम लेंगे आपकी जिम्मेदारी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X